आप भी लिखें
पूर्वोत्तर भारत में भी पैर पसारने को तैयार कबड्डी लीग
By Deshwani | Publish Date: 10/5/2017 12:45:15 PM
पूर्वोत्तर भारत में भी पैर पसारने को तैयार कबड्डी लीग

त्रिदिब बापरनाश

नई दिल्ली, (आईपीएन/आईएएनएस)। प्रो कबड्डी लीग के पांचवें सीजन की शुरुआत होने वाली है और ऐसे में इसके आयोजकों की कोशिश देश के कोने-कोने तक इस लीग को लेकर जाने की है। कबड्डी के आयोजकों की कोशिश विशेष रूप से पूर्वोत्तर भारत में पैर जमाने की है।

आई-लीग को जीतने वाली नई टीम आईजॉल एफसी की सफलता को देखते हुए स्टार इंडिया के प्रबंध निदेशक संजय गुप्ता को आशा है कि पूर्वोत्तर भारत में भी कबड्डी के कई बेहतरीन खिलाड़ी छिपे हैं और इन खिलाड़ियों की खोज के लिए आगामी भविष्य में वह प्रयास करेंगे। इस लीग के नए सीजन में चार नई टीमों को शामिल किया गया है। इसके तहत कुल 12 टीमें इस सीजन में हिस्सा लेंगी। आईएएनएस के साथ बातचीत में गुप्ता ने कहा, “यह देश युवाओं का है, जो केवल कबड्डी को देखने के लिए ही नहीं, बल्कि इसका हिस्सा बनने के लिए भी उत्साहित हैं। देशभर में कई प्रतिभाएं हैं, जो खेल जगत का हिस्सा बनना चाहती हैं। विशेषकर कबड्डी का।“

गुप्ता ने कहा, “इन सब चीजों को ध्यान में रखते हुए इस बार हम चार अन्य टीमों को शामिल कर रहे हैं, लेकिन हम भविष्य में विश्वास रखते हैं। पूर्वोत्तर भारत में आधारभूत सुविधाओं की कमी हैं। इस क्षेत्र में कबड्डी के मैचों के आयोजन हेतु एक स्टेडियम भी होना चाहिए।“ उन्होंने कहा, “मैं आश्वस्त हूं कि हम पूर्वोत्तर भारत से अच्छी प्रतिभाओं की खोज करेंगे और भविष्य में हमें इन अवसरों पर ध्यान जरूर देना चाहिए।“ गुप्ता ने कहा कि उनकी टीम भारतीय एमेच्योर कबड्डी संघ (एकेएफआई) के साथ करीबी तौर पर काम कर रही है, ताकि देश भर से प्रो-कबड्डी लीग की नीलामी तक कई नए खिलाड़ियों की तलाश कर सके।

प्रो-कबड्डी लीग ने अपने नए सीजन के लिए चीन की स्मार्टफोन निर्माता वीवो के साथ करार किया है। वीवो के साथ आयोजकों ने पांच साल का करार किया है, जिसके लिए 300 करोड़ रुपये का सौदा हुआ है। इस प्रकार वीवो इस कबड्डी लीग सीजन का टाइटल स्पांसर होगा। प्रो-कबड्डी लीग के पांचवें सीजन के लिए खिलाड़ियों की नीलामी इसी माह के अंत में होगी। गुप्ता ने कहा कि वह देशभर में नई प्रतिभाओं को तलाश रहे हैं। इस पर पिछले साल से उनकी टीम काम कर रही है। इन प्रतिभाओं की खोज इस बार लीग से जुड़ी चार अतिरिक्त टीमों के लिए की जा रही है।

वीवो के साथ साझेदारी के बारे में गुप्ता ने कहा, “कबड्डी लीग की शुरुआत तीन साल पहले हुई थी और इतने कम समय में इस लीग ने बड़ी सफलता हासिल कर ली है। इन तीन साल में हमें कोई टाइटल स्पांसर नहीं मिला था और हम ऐसे किसी साझेदार की खोज कर रहे थे, जो हमारी तरह ही इस लीग के लिए उत्साहित हो। हम खुश हैं कि वीवो हमारा साझेदार बना है।“ प्रो-कबड्डी लीग के साथ हुए करार को लेकर वीवो-इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी केंत चेंग ने कहा, “प्रो-कबड्डी लीग अप्रत्याशित ऊचांइयों पर पहुंच चुकी है और अब यह भारत की सबसे सफल लीगों में से एक है। हम इसका टाइटल स्पांसर बनकर काफी उत्साहित हैं।“

प्रो-कबड्डी लीग और कबड्डी विश्व कप में पाकिस्तानी खिलाड़ियों के शामिल होने के बारे में गुप्ता ने कहा कि इसका फैसला सरकार के हाथ में है। गुप्ता ने कहा, “मेरे लिए इस मामले पर कुछ भी कहना मुश्किल होगा। पिछले साल हमने विश्व कप का आयोजन किया था। अगली बार जब भी विश्व कप का आयोजन होगा, हम सरकार के दिशा-निर्देशों में ही काम करेंगे और एक देश के तौर पर जो सही होगा, हम वही करेंगे। हम न तो किसी देश के सहभागिता की पुष्टि कर रहे हैं और न ही इसके इनकार कर रहे हैं।“ इस सीजन में प्रो-कबड्डी लीग में 130 से भी अधिक मैच खेले जाएंगे। इस सीजन की शुरुआत जुलाई से होगी।

COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS