बिहार
सीवान-छपरा मुख्य पथ पर हादसे में चालक की मौत, ग्रामीणों ने की सड़क जाम
By Deshwani | Publish Date: 29/4/2017 5:39:53 PM
सीवान-छपरा मुख्य पथ पर हादसे में चालक की मौत, ग्रामीणों ने की सड़क जाम

सीवान। बिहार के सीवान-छपरा मुख्य पथ राष्ट्रीय राजमार्ग (एनएच)-85 पर दारौंदा के धानाडीह लाइन होटल के सामने शुक्रवार की देर रात हुए एक सड़क हादसे में ट्रक चालक की मौत हो गई। शनिवार की सुबह घटना के विरोध में आक्रोशित ग्रामीणों ने एनएच सीवान - छपरा को जाम कर आग लगा दी । घटनास्थल पर उपजे तनाव के बाद ग्रामीणों ने पथराव किया वहीं, जवाब में पुलिस ने ग्रामीणों पर फायरिंग की। इस हादसे में दारौंदा थाना के प्रभारी सुनील कुमार, सत्येन्द्र प्रसाद एवं दारौंदा सीओ अशोक कुमार चौधरी जख्मी हो गए । घटना के संबंध में ग्रामीणों ने बताया कि धनौती निवासी प्रदीप कुमार सिंह उर्फ पिन्टु सिंह शुक्रवार की रात डोरीगंज से ट्रक पर बालू लादकर घर जाने के क्रम में गाड़ी को धानाडीह में लगाकर खाना खाने के लिए पैदल घर जाने लगा तभी किसी वाहन के चपेट में आने से घटनास्थल पर ही उसकी मौत हो गई । शनिवार सुबह ग्रामीण जब टहलने गए तो सड़क पर कुचला शव देखकर उसकी पहचान कर ली और देखते ही देखते आक्रोशित ग्रामीण सड़क पर इक्कठा हो गए और पुलिस को घटना की सूचना पुलिस को दी गई । सूचना के बाद भी पुलिस के देर से पहुंचने पर ग्रामीण आग -बबूला हो गए और एनएच 85 सीवान- छपरा मुख्य पथ जाम कर दिया । घटना के करीब दो घंटे बाद पुलिस घटना स्थल पहुंची इस पर ग्रामीण भीड़ उग्र हो गए वहीं, स्थिति को देखते हुए पुलिस को एक राउंड फायरिंग भी करनी पड़ी । इसके बाद कुछ ग्रामीणों ने ईंट पत्थर से पुलिस पर हमला शुरू कर दिया जिसमें पुलिस की बिना नम्बर वाली गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई । वहीं, थाना प्रभारी सुनील कुमार का सिर फट गया ।

इस घटना में एसआई सत्येन्द्र कुमार के हाथ में चोट आयी जबकि सीओ अशोक कुमार चौधरी के पैर में चोट लगी । पुलिस घटनास्थल से किसी तरह जान बचाकर भागी। ग्रामीणों का आरोप है कि पुलिस रात में गश्ती नहीं करती है। घटना के दो घंटे बाद पुलिस घटनास्थल पर पहुंची और पहुंचते ही सड़़क पर भीड़ लगाये लोगों को गाली गलौज देते हुये फायरिंग शुरू कर दी । इससे ग्रामीण उग्र हो गये । वहीं, पुलिस का कहना है कि आक्रोशित ग्रामीण बेवजह पुलिस पर ईट पत्थर चलाने लगे पर जबाब में पुलिस द्वारा फायरिंग नहीं की गयी। घटना के बाद पांच घंटा तक सड़क जाम रही । वहीं, सड़क के दोनों तरफ वाहनों की लम्बी कतार लग गयी । आने जाने वाले हर व्यक्ति को परेशानी का सामना करना पड़ा महाराजगंज के एसडीओ मंजीत कुमार, बीडीओ शैलेन्द्र कुमार सिंह ने घटना स्थल पर पहुंच कर ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि मृतक प्रदीप कुमार सिंह की पत्नी को सहित सभी सरकारी सहायता उपलब्ध कराई जाएगी। इसके बाद ही ग्रामीणों ने जाम हटाया वहीं, पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिये सीवान भेज दिया।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS