बिहार
पीडीएस के चावल की कालाबाजारी मामले में प्राथमिकी दर्ज
By Deshwani | Publish Date: 28/4/2017 6:12:53 PM
पीडीएस के चावल की कालाबाजारी मामले में प्राथमिकी दर्ज

 सीवान। सीवान के दारौंदा प्रखंड के बालबंगरा पंचायत के झंझवा गांव के डीलर चम्पा देवी पर कालाबाजारी में अनाज बेचने की नीयत से ले जाने के मामले में जिला सहायक आपूर्ति पदाधिकारी श्रीराम रजक ने दारौंदा थाने में प्राथमिकी दर्ज करायी है। इस मामले में वैन के चालक, खलासी एवं मजदूर तीनों को सीवान जेल भेजा गया है। 

इस संबंध में जिला सहायक आपूर्ति पदाधिकारी श्रीराम रजक ने बताया कि एक पिक-अप में कुल 94 पैकेट अनाज जिसमें गेहूंं के 35 पैकेट यानी 16 क्विंटल 45 किलो जबकि चावल के 59 पैकेट यानी 20 क्विंटल 55 किलो लादकर कालाबाजारी के लिए जा रहा था। तभी ग्रामीणों की इसकी भनक मिल गई अौर उन्होंने पिकअप रोक कर वरीय पदाधिकारी को सूचना दी। इस पर पुलिस पदाधिकारी ने घटना स्थल पंहुचकर अनाज से लदे वाहन को अपने कब्जे में ले लिया। उन्होंने कहा कि जितने पैकेट थे सभी एक ही तरह के अनाज से अनाज से भरे हुए थे। वहीं, पैकेट का मुंह रस्सी से सिला हुआ था। किसी भी पैकेट में बिहार सरकार राज्य खाद्यान्न निगम लिखा हुआ नहीं मिला। उन्होंने बताया कि ग्रामीणों ने बाजार में बिक रहे चावल को प्लास्टिक के पैकेट में भरकर कालाबाजारी के लिए ले जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि डीलर की स्टॉक पंजी एवं वितरण पंजी. आदि की जांच की जाएगी। जब्त अनाज को बालबंगरा पंचायत के डीलर कमख्या सिंह को रखा गया। 
पिक-अप वैन के चालक रंजीत कुमार, खलासी कमलेश महतो एवं मजदूर ओमप्रकाश साह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इस मामले में जिला सहायक आपूर्ति पदाधिकारी श्रीराम रजक के बयान पर दारौंदा थाना कांड संख्या 69/17 में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई| है। इस मामले में डीलर सहित चार पर प्राथमिकी दर्ज की गई है जिसमें चालक रंजीत कुमार, खलासी कमलेश महतो एवं मजदूर ओमप्रकाश साह को सीवान जेल भेजा गया। इस संबंध में दारौंदा थाना प्रभारी सुनील कुमार ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर तीन आरोपियों को शुक्रवार को सीवान जेल भेज दिया गया। बहरहाल, मामले की सभी बिन्दुओं की जांच की जा रही है।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS