राज्य
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रविवार को एक दिवसीय प्रवास पर ग्वालियर आएंगे
By Deshwani | Publish Date: 10/2/2018 12:09:52 PM
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रविवार को एक दिवसीय प्रवास पर ग्वालियर आएंगे

ग्वालियर । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रविवार (11 फरवरी) को एक दिवसीय प्रवास पर ग्वालियर आएंगे। वह यहां दिव्यांगों और वृद्धजनों के लिए आयोजित होने के वाले प्रदेश के अब तक के सबसे बड़े नि:शुल्क सहायक उपकरण वितरण समारोह में मुख्य अतिथि के तौर पर शामिल होंगे। इसके अलावा अन्य कार्यक्रमों में भी वे शिरकत करेंगे।
निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार राष्ट्रपति कोविंद का 11 फरवरी को सुबह 10 बजे एयर फोर्स स्टेशन विमानतल पर आगमन होगा। राष्ट्रपति प्रात: 10.45 बजे जीवाजी विश्वविद्यालय के खेल मैदान पर पहुंचकर दिव्यांग एवं वरिष्ठ नागरिकों के लिए आयोजित हो रहे 'नि:शुल्क सहायक उपकरण वितरण समारोह' में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। राष्ट्रपति इसके बाद दोपहर 12 बजे आईटीएम यूनिवर्सिटी पहुंचकर डॉ. राममनोहर लोहिया स्मृति व्याख्यान माला में शामिल होंगे। इस कार्यक्रम के पश्चात राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद दोपहर लगभग 1.30 बजे वीआईपी सर्किट हाउस पहुंचेंगे।
ग्वालियर प्रवास के दौरान राष्ट्रपति 11 फरवरी को अपराह्न 3.30 बजे जीवाजी विश्वविद्यालय के जिम्नेजियम हॉल में पहुंचकर विश्वविद्यालय के दीक्षांत समारोह में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होंगे। राम नाथ कोविंद अपराह्न 4.30 बजे जीवाजी विश्वविद्यालय से वायु सेना विमानतल के लिए प्रस्थान करेंगे और वहां से विमान द्वारा सायंकाल लगभग 5.05 बजे नई दिल्ली के लिए रवाना होंगे। 
'नि:शुल्क सहायक उपकरण वितरण समारोह' की हुई फाइनल रिहर्सल
राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के मुख्य आतिथ्य में रविवार को दिव्यांगजन एवं वरिष्ठ नागरिकों के लिए आयोजित हो रहे 'नि:शुल्क सहायक उपकरण वितरण समारोह' की तैयारियों की फाइनल रिहर्सल की गई। कलेक्टर राहुल जैन ने आयोजन से जुड़े सभी वॉलेंटियर एवं शासकीय अमले को सौंपी गई जिम्मेदारियों का फाइनल प्रदर्शन देखा। साथ ही इस मेगा शिविर को सुव्यवस्थित ढंग से सम्पन्न कराने के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।
सरकार द्वारा संचालित एडिप एवं राष्ट्रीय वयोश्री योजना के तहत यह शिविर 11 फरवरी को जीवाजी विश्वविद्यालय के खेल मैदान पर आयोजित होगा। दिव्यांगजन एवं वरिष्ठ नागरिकों के लिए इस शिविर का आयोजन सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय भारत सरकार, जिला प्रशासन एवं भारतीय रेडक्रॉस सोसायटी हरियाणा राज्य शाखा की संयुक्त भागीदारी से हो रहा है। ग्वालियर जिले को दिवयांग मित्र बनाने के लिये चलाए जा रहे अभियान के तहत यह शिविर आयोजित हो रहा है। फाइनल रिहर्सल में कलेक्टर ने सभी वॉलेंटियर से कहा कि हितग्राहियों को पहले ही बता दें कि उन्हें भोजन व उपकरण उनकी सीट पर ही मुहैया कराए जाएंगे। इससे उनमें किसी तरह के भ्रम की स्थिति न रहे। समारोह स्थल पर कुल 18 सेक्टर बनाए गए हैं। इनमें से 17 सेक्टर हितग्राहियों के लिए हैं। इन सभी सेक्टरों में भोजन वितरण की जिम्मेदारी निरंकारी मिशन के वॉलेंटियर निभाएंगे। देशभर से आए जूनियर रेडक्रॉस वॉलेंटियर, एनसीसी कैडेट्स, आनंदम कार्यकर्ता, धरा फाउण्डेशन तथा अन्य वॉलेंटियर व शासकीय सेवक दिव्यांगों को उनके निर्धारित सेक्टर में बिठाने से लेकर उन्हें उपकरण वितरण का काम करेंगे। हितग्राहियों को सुविधाजनक तरीके से उनके सेक्टर में बिठाया जा सके, इसके लिए दिव्यांगता के हिसाब से अलग-अलग कलर कोड के पहचान पत्र हितग्राहियों को दिए गए हैं। साथ ही उन पर दिव्यांगता के कोड का भी उल्लेख है।
कलेक्टर ने सभी वॉलेंटियर एवं शासकीय अमले से कहा कि समारोह में आने वाले सभी दिव्यांगजन एवं वरिष्ठनागरिकों के साथ अच्छा व्यवहार करें। उन्होंने कहा खासतौर पर ऐसे हितग्राहियों को समझाइश दें, जो पहली बार मदद की आस में शिविर में आए हों। अर्थात उन्होंने मेगा शिविर के लिये अपना पंजीयन और परीक्षण नहीं कराया था। ऐसे दिव्यांग व वृद्धजन का समारोह स्थल पर लगाए गए एसिसमेन्ट शिविर में परीक्षण कराएं और उन्हें बताएं कि आगामी 21 मार्च को एलिम्को द्वारा उन्हें उपकरण मुहैया कराई जाएंगे।
फाइनल रिहर्सल में उन सभी गतिविधियों का हू-ब-हू प्रदर्शन कराया गया, जो राष्ट्रपति के मुख्य आतिथ्य में आयोजित होने जा रहे समारोह में होना है। फाइनल रिहर्सल में बीएसएफ के बैण्ड ने राष्ट्रगान की प्रस्तुति दी। कलेक्टर ने इस मौके पर यह भी जानकारी दी कि शिविर स्थल पर आधा दर्जन बिस्तर का अस्थाई अस्पताल भी कार्यरत रहेगा। साथ ही हितग्राहियों के लिये 120 अस्थाई शौचालय बनवाए गए हैं। हर सेक्टर में पेयजल की व्यवस्था की गई है। वॉलेंटियर का दायित्व होगा कि हितग्राहियों को यह सुविधायें सुगमता से मिल जाएं। कलेक्टर ने कहा कि भोजन व उपकरण वितरण के बाद सभी वॉलेंटियर हितग्राहियों को वाहनों में सुविधाजनक तरीके से बिठाने के लिये ले जाएं। उन्होंने कहा दूरदराज से आए हितग्राहियों के ट्राइस्कील उनके गांव तक पहुंचाने के लिये विशेष वाहन लगाए गए हैं।
राष्ट्रपति के प्रस्थान के बाद शुरू होगा एसिसमेंट शिविर
कलेक्टर राहुल जैन ने फाइनल रिहर्सल में स्पष्ट किया कि नि:शुल्क सहायता उपकरण वितरण समारोह से राष्ट्रपति के प्रस्थान के बाद ही नए हितग्राहियों के पंजीयन व एसिसमेंट शिविर की शुरूआत होगी। उन्होंने कहा कि संबंधित वॉलेंटियर सुव्यवस्थित तरीके से इन सभी का पंजीयन व परीक्षण कराएं। परीक्षण के लिए विशेष चिकित्सक और एलिम्को की टीम विभिन्न काउण्टर पर तैनात रहेगी।
डांस इंडिया डांस के प्रतिभागी बच्चों सहित अन्य दिव्यांग देंगे प्रस्तुति
'नि:शुल्क सहायत उपकरण वितरण समारोह' में होने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रमों की फाइनल रिहर्सल भी हुई। अमर ज्योति विद्यालय एवं पुनर्वास केन्द्र, आत्मज्योति दृष्टिहीन बालिका विद्यालय, सीडब्ल्यूएसएन संभागीय बालिका छात्रावास, माधव अंधाश्रम इत्यादि संस्थाओं के दिव्यांग बच्चे रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुतियों की फाइनल रिहर्सल हुई। डांस इंडिया डांस, सत्यमेव जयते, इंटरटेनमेंट के लिए कुछ भी करेगा व इंडियाज गॉट टैलेन्ट सीजन-2 में प्रस्तुतियां देकर देशभर में नाम कमा चुके वी आर वन संस्था के दिव्यांग बच्चे भी नि:शुल्क सहायता उपकरण वितरण समारोह में अपनी प्रस्तुति देने आ रहे हैं।
भारत सरकार के संयुक्त सचिव ने की तैयारियों की समीक्षा
 
भारत सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय के संयुक्त सचिव प्रबोध सेठ ने कलेक्टर राहुल जैन के साथ एलिम्को एवं संबंधित अधिकारियों की बैठक लेकर शिविर की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने इस अवसर पर अधिकारियों का एक-दूसरे के दायित्वों से अवगत कराया। 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS