राज्य
मुख्यमंत्री की अपील, भावांतर भुगतान योजना में पंजीयन कराएं किसान
By Deshwani | Publish Date: 12/10/2017 11:08:02 AM
मुख्यमंत्री की अपील, भावांतर भुगतान योजना में पंजीयन कराएं किसान

भोपाल, (हि.स.)। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि भावांतर भुगतान योजना का ग्रामीण क्षेत्रों में व्यापक प्रचार-प्रसार कर अधिकाधिक किसानों का पंजीयन किया जाय। इसके लिए गाँवों में मुनादी करवाई जाए तथा प्रचार माध्यमों का समुचित उपयोग भी किया जाए। मुख्यमंत्री ने बताया कि गुरूवार को वे स्वयं रेडियो के माध्यम से विशेष ग्राम-सभाओं में किसानों सेचर्चा करेंगे। मुख्यमंत्री ने बुधवार शाम को सीहोर जिला मुख्यालय पर आयोजित किसान सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि योजना का लाभ पंजीयन कराने वाले किसानों को ही मिल सकेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि 16 अक्टूबर को सागर जिले में खुरई तहसील मुख्यालय पर योजना का शुभारंभ करेंगे। उन्होंने कहा कि किसानों को उनकी उपज की वाजिब कीमत दिलाने के लिए ही भावांतर भुगतान योजना आरंभ की गई है। इस योजना में दलहनी, तिलहनी और उद्यानिकी फसलों का किसानों को उचित मूल्य दिलवाने के लिए घोषित माडल दर के अंतर की राशि प्रतिपूर्ति के रूप में सीधे किसान के खाते में जमा कराई जाएगी। मुख्यमंत्री ने जरूरत के मुताबिक क्राप-पैटर्न बदलने की सलाह देते हुए किसानों से कहा कि खेती के लिए उपलब्ध संसाधनों का अधिकतम उपयोग करें।
सीएम ने कहा कि पार्वती नदी को नदी जोड़ो अभियान में शामिल किया गया है। किसानों को सिंचाई के लिए पानी अब नहरों के स्थान पर पाइप लाइनों के माध्यम से उपलब्ध कराया जायेगा, क्योंकि नहरों से सिंचाई में काफी मात्रा में पानी व्यर्थ हो जाता है। उन्होंने कहा कि छोटी सिंचाई योजनाएं बनाने पर जोर दिया जायेगा ताकि उपलब्ध जल का अधिकतम उपयोग हो सके। मुख्यमंत्री ने कहा कि बेघर परिवारों का सर्वेक्षण कर उन्हें जमीन दी जाएगी। आवास बनाने के लिए राशि भी उपलब्ध कराई जाएगी। उन्होंने कहा कि अकेले सीहोर जिले में प्रधानमंत्री आवास योजना में इस वर्ष 19 हजार मकान बनाकर पात्र लोगों को दिये जा रहे हैं। अगले साल जिले में 20 हजार मकान बनाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि हर पात्र परिवार को उज्ज्वला योजना में गैस कनेक्शन देने का काम पूरे प्रदेश में चल रहा है।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर सीहोर तथा इछावर विकासखंड में 66 करोड़ रूपये लागत के 29 कार्यो का लोकार्पण एवं शिलान्यास किया। उन्होंने जिले में स्वच्छता ही सेवा अभियान के दौरान उत्कृष्ट कार्य करने वाली 108 संस्थाओं को 12.75 लाख रूपये प्रोत्साहन राशि का वितरण किया तथा 101 हितग्राहियों को प्रधानमंत्री आवास योजना में गृह प्रवेश के लिए चाबी सौंपी। मुख्यमंत्री ने कन्या महाविद्यालय सीहोर में अगले शैक्षणिक सत्र से स्नात्कोत्तर कोर्स चालू करने की घोषणा की।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS