पटना
जीतनराम मांझी ने कहा हर हाल में लड़ेंगे जहानाबाद सीट का उपचुनाव
By Deshwani | Publish Date: 12/2/2018 7:21:40 PM
जीतनराम मांझी ने कहा हर हाल में लड़ेंगे जहानाबाद सीट का उपचुनाव

पटना । हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा के अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम सोमवार को यहां दावा किया कि चाहे कुछ हो जाए हर हाल में उनकी पार्टी जहानाबाद सीट के लिए 11 मार्च को होने वाले उपचुनाव लड़ेगी । इसके लिए अगर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह से भी बात करनी पड़े तो करेंगे। उन्होंने कहा​ पार्टी के एकमात्र विधायक हैं। पार्टी को मजबूती देना उनकी पहली प्राथमिकता है। यदि उनकी पार्टी कमजोर होगी तो राजग भी कमजोर होगा। 

मांझी की हम पार्टी की 14 सदस्यीय कोर कमिटी की बैठक के बाद बातचीत कर रहे थे। उप चुनाव के लिए 13 फरवरी को अधिसूचना जारी होगी और 20 मार्च को नामांकन पत्र दाखिल होगा। मांझी ने कहा कि कोर कमिटी ने 8 अप्रैल को पार्टी के पटना में प्रस्तावित सम्मेलन की तैयारी को लेकर भी चर्चा की है। इसमें पांच लाख लोग जुटेंगे। बैठक में पार्टी के वरिष्ठ नेता, प्रदेश अध्यक्ष, सहित कई नेता मौजूद थे। बैठक में विधान सभा उपचुनाव और पार्टी की मजबूती को लेकर चर्चा हुई। 
मांझी के तेवर से जहानाबाद सीट को लेकर राजग में घमासान तेज होने के आसार हैं । समझा जा रहा है कि उपचुनाव के बहाने मांझी अपने बेटे संतोष कुमार सुमन को विधान परिषद के आसन्न चुनाव में एक सीट तय करने के लिए सौदेबाजी कर रहे हैं। जदयू ने तीन सीटों के लिए होने वाले चुनाव से खुद को अलग रखने का निर्णय लिया है। भाजपा लोकसभा की अररिया और भभुआ विधानसभा सीट लड़ने की तैयारी कर रही है । जहानाबाद सीट रालोसपा के लिए छोड़ दी है। रालोसपा में भी रालोसपा के जहानाबाद के सांसद अरुण कुमार और पार्टी के अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा के बीच भारी खींचतान है। पहले से एक-दूसरे के प्रतिद्वंद्वी बने उपेन्द्र-अरुण के विवाद में रालोसपा के लिए भी जहानाबाद उपचुनाव के लिए आमसहमति का उम्मीदवार तय करना ​कठिन चुनौती है।
मांझी के तेवर और हाल के बयान को लेकर राजग के नेता भी परेशाान हैं। मांझी कभी नीतीश कुमार की सराहना करते हैं तो कभी नीतीश पर हमला बोलते हैं । कभी अकेले चुनाव लड़ने की बात करते है। कभी राजग में हरहाल में बने रहने की बात करते हैं । प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व की सराहना करते हैं और आरक्षण का मिल रहे लाभों की समीकरण संबंधी आरएसएस प्रमुख के बयान का समर्थन करते हैं। 
 
 
 
 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS