पटना
कुरीतियों को समाप्त करने संबंधी अभियान को राजनीतिक तौर पर ना देखें : सीएम
By Deshwani | Publish Date: 18/1/2018 8:12:50 PM
कुरीतियों को समाप्त करने संबंधी अभियान को राजनीतिक तौर पर ना देखें : सीएम

पटना (हि.स.)। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि दहेज एवं बाल विवाह जैसी कुरीतियों को समाप्त करने संबंधी अभियान को राजनीतिक तौर पर नहीं देखना चाहिए। यह समाज सुधारक कार्य है। नीतीश ने लोगों से कहा है कि इस कुरीति के खिलाफ 21 जनवरी को मानव श्रृखंला में शामिल होकर स्पष्ट संदेश दीजिए। यह जनता तक संदेश जाएगा और इसका असर अद्भुत होगा। इसका असर भी जबरदस्त होगा।
मुख्यमंत्री ने गुरुवार को छपरा के एकमा में विकास कार्यों की समीक्षा यात्रा के दौरान आयोजित कार्यक्रम में 416 करोड़ रुपये की 331 योजनाओं का रिमोट के माध्यम उद्घाटन एवं शिलान्यास करने के बाद आमसभा को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि लोगों से कहा कि इन्हें खत्म करने के लिए आप सब एक संकल्प लीजिए कि आपका कोई कितना भी नजदीकी क्यों न हो, अगर उसने दहेज लिया है तो उसकी शादी में शामिल न हों। अगर आप शादी में नहीं जाएंगे तो वह भयभीत होगा, उसका भेद खुल जाएगा। आप मन बना लीजिए कि किसी भी सूरत-ए-हाल में दहेज वाली शादी में शामिल नहीं होंगे। आपस में बात करते रहिए और इस संकल्प के लिए पक्का मन बना लीजिए।
मुख्यमंत्री ने कहा कि एकमा को अनुमंडल बनाने की मांग पर कहा कि प्रखंड, अनुमंडल, जिला, कमिश्नरी, इन सबके गठन के लिए कैबिनेट की एक कमेटी बनाई गई है, जो एक एक पहलू पर विचार करके अपना निर्णय देगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हर एक व्यक्ति को बुनियादी नागरिक सुविधाएं दिलाने का हमारा संकल्प है, लक्ष्य है और निश्चय है।

COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS