राष्ट्रीय
रांची में बनेगा इंटरनेशनल टर्मिनल : जयंत सिन्हा
By Deshwani | Publish Date: 12/1/2018 7:48:39 PM
रांची में बनेगा इंटरनेशनल टर्मिनल : जयंत सिन्हा

रांची, (हि.स.)। केंद्रीय उड्डयन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने कहा है कि रांची में इंटरनेशनल टर्मिनल बनाया जायेगा। यहां का टर्मिनल बहुत व्यस्त हो गया है। इसलिए अब डोमेस्टिक नहीं, इंटरनेशनल टर्मिनल की जरूरत है। उन्होंने कहा कि भूमि अधिग्रहण की समस्या जैसे ही समाप्त होगी, इस दिशा में कार्य शुरू कर दिया जायेगा। जयंत सिन्हा शुक्रवार को राष्ट्रीय युवा दिवस के अवसर पर खेलगांव में आयोजित स्किल समिट में विशिष्ट अतिथि के रूप में बोल रहे थे। 
उन्होंने कहा कि आज झारखंड सरकार ने इतिहास रचा है। एक साथ 25 हजार युवाओं को रोजगार देकर राज्य का नाम और रोशन किया है। आज सिर्फ झारखंड में नहीं, पूरे राज्य में उज्जवला योजना के तहत गरीबों को गैस सिलेंडर और चूल्हा का वितरण किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि झारखंड सरकार ने ‘सबका साथ और सबका विकास’ का नारा बदल दिया है। सरकार ने इस मूल मंत्र को पीछे छोड़ दिया है। अब सरकार ने इसे नया रूप दिया है। अब सबका साथ और निरंतर विकास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज राज्य में बिजली, पानी, सड़क जैसी बुनियादी सुविधाएं बढ़ रही हैं। राज्य दिन व दिन तरक्की कर रहा है। हर क्षेत्र में रोजगार बढ़ रहा है। 
जयंत सिन्हा ने कहा कि भाजपा सरकार के बनने के तीन साल पहले रांची से सिर्फ 11 फ्लाइट थीं। आज इसकी संख्या बढ़कर 27 हो गयी है। आज हैदराबाद, दिल्ली, कोलकाता, बेंगलुरु, मुंबई सहित अन्य जगहों के लिए लगातार फ्लाइट चल रही हैं। उन्होंने कहा कि पहले हर साल फ्लाइट से यात्रा करने वालों की संख्या पांच लाख होती थी लेकिन अब 15 लाख लोग सालाना सफर कर रहे हैं। आने वाले पांच 10 वर्षों में और बदलाव होगा। आज जमशेदुपर से लेकर धनबाद तक एक ग्रोथ कॉरिडोर बन रहा है। इसे हवाई और रेल माध्यम से जोड़ा जा रहा है। यहां पर जल्द ही इंडस्ट्रीयल कॉरिडोर, इंडस्ट्रीयल पार्क, हायर एजुकेशन हब बनेंगे। हमें मिलकर विवेक और बुद्धि से झारखंड को आगे लहै। अगर हमें आनंद चाहिए तो विवेक का उद्भोग करना होगा। उन्होंने कहा कि विवेक से आगे बढ़ेंगे, तो झारखंड की बुद्धि और विवेक को मेहनत से जोड़ेंगे, तो सिर्फ कोयला ही नहीं, बिजली भी बेच पायेंगे। साथ ही मोटरसाइिकल और कार भी बनायेंगे। झारखंड राज्य का भविष्य सुनहरा बनने वाला है। 
इस अवसर पर पांच कंपनियों के साथ झारखंड सरकार ने एमओयू किया। साथ ही कौशल विकास के क्षेत्र में बेहतर काम करने वाले प्रशिक्षकों को सम्मानित किया गया। इस मौके पर मंत्री लुईस मरांडी, अमर कुमार बाउरी, सीपी सिंह, रामचंद्र चंद्रवंशी आदि कई लोग उपस्थित थे। 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS