ब्रेकिंग न्यूज़
नेपाल में राज्यपाल और प्रांतीय राजधानी पर पुनर्विचार करेगी नई सरकार : ओलीउप्र के नये राज्य निर्वाचन आयुक्त मनोज कुमार ने संभाला कार्यभार29 उत्पादों, 53 सेवाओं पर जीएसटी दरें परिवर्तित, पेट्रोलियम- रियल इस्टेट का जिक्र नहीं, फाइलिंग का सरलीकरण मुद्दाटेरर फंडिंग मामले में हाफिज सईद समेत आठ के खिलाफ आरोपपत्रपाकिस्तान के तीन रेंजर ढेर, जवान शहीद... पंजाब: कैबिनेट मंत्री राणा गुरजीत का इस्तीफा मंजूर, फिर टला मंत्रिमण्डल विस्तारदिल्ली: केंद्रीय वित्त मंत्री की अध्यक्षता में विज्ञान भवन में जीएसटी काउंसिल की बैठक शुरू... पूर्वोत्तर के तीन राज्यों में आदर्श आचार संहिता लागू, ईवीएम और वीवीपैट से होगा मतदान
राष्ट्रीय
पनामा : चिदम्बरम-पांडा मिलीभगत की एसआईटी जांच हो : अजीत जोगी
By Deshwani | Publish Date: 13/8/2017 2:57:27 PM
पनामा : चिदम्बरम-पांडा मिलीभगत की एसआईटी जांच हो : अजीत जोगी

 नई दिल्ली, (हि.स.)। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के बागी नेता अजीत जोगी ने अगस्ता वेस्टलैंड और पनामा मामले में ‘चिदम्बरम-पांडा मिलीभगत’ की जांच के लिए विशेष जांच दल (एसआईटी) से कराने की मांग की है।

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ प्रमुख अजीत जोगी ने कालाधन मामले की जांच के लिए उच्चतम न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश एम बी शाह की अध्यक्षता में गठित एसआईटी को गत गुरुवार को पत्र लिखकर अगस्ता-वेस्टलैंड एवं पनामा लीक मामले में छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमण सिंह और उनके सांसद पुत्र अभिषेक सिंह के बाद अब पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदम्बरम एवं बीजू जनता दल के सांसद बैजयंत पांडा की सांठगांठ को लेकर किये गये खुलासे की व्यापक जांच करने की मांग की है।
 
जोगी का आरोप है कि बीजू जनता दल (बीजेडी) सांसद बिजयंत पांडा की कंपनी को साल 2007-2008 के दौरान विदेशी निवेश संवर्धन बोर्ड (एफआईपीबी) की मंजूरी देने में अनियमितता बरती गई, जिस वक्त पी. चिदंबरम केंद्रीय वित्त मंत्री थे। 
 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS