जरूर पढ़े
जोधपुर में 21 वर्षों बाद संतों का चातुर्मासिक समागम
By Deshwani | Publish Date: 28/6/2017 2:08:53 PM
जोधपुर में 21 वर्षों बाद संतों का चातुर्मासिक समागम

 जोधपुर, (हि.स.)। श्री वर्धमान स्थानकवासी जैन श्रावक संघ एवं श्री रूप सुकन चातुर्मास व्यवस्था समिति, जोधपुर के संयुक्त तत्वावधान में 30 जून से भव्य चातुर्मास का आयोजन किया जा रहा है। इसकी तैयारियां जोरों से चल रही हैं।

सरदारपुरा डी रोड स्थित महावीर भवन में आयोजित प्रेस-वार्ता में संघ अध्यक्ष सुरेश भंडारी ने बताया कि श्रद्धेय भगवंत श्रमण सूर्य, श्रमणसंघीय भीष्म पितामह प्रवर्तक मरूधर केसरी मिश्रीमल म.सा. के अंतेवासी संत प्रवर लोकमान्य संत, अहिंसा दिवाकर, वरिष्ठ प्रवर्तक गुरूदेव रूपचंदजी म.सा. का चातुर्मास 21 वर्षों बाद धार्मिक नगरी जोधपुर की पावन धरा पर होगा। 
इनके साथ ही उप प्रवर्तक सुकनमुनि म.सा., तपस्वी ज्योतिष सम्राट अमृतमुनि म.सा., युवाप्रज्ञ अमरेशमुनि म.सा, युवा प्रणेता महेशमुनि म.सा., आत्मार्थी राकेशमुनि म.सा., मधुरभाषी मुकेशमुनि म.सा., परम सेवाभावी हरिशमुनी म.सा., विद्यानुराणी नानेशमुनी म.सा., युवामनीषी डॉ. दीपेशमुनि म.सा., मधुर प्रवचनकार हितेषमुनि म.सा., अध्यवसायी प्रवेशमुनि म.सा., प्रार्थनार्थी सचिनमुनि म.सा. एवं बालयोगी अखिलेशमुनि म.सा. आदि ठाणा 14 का पावन पुनित वर्षावास का अवसर सूर्यनगरी जोधपुर को मिला है। इनका चातुर्मासिक प्रतिदिन प्रवचन सरदारपुरा स्थित महावीर कॉम्पलेक्स में होगा।
भंडारी ने बताया कि इनके साथ ही मरूधरा सिंहनी महाश्रमणी तेजकंवर म.सा. की सुशिष्या उमरावकंवर म.सा. प्रीतिसुधा म.सा. एवं मधुसुधा म.सा. आदि ठाणा 3 का चातुर्मास महावीर भवन निमाज की हवेली में होना सुनिश्चित हुआ है।
संघ के सचिव रतनलाल दरडा ने बताया कि जैन समाज के लिए यह चातुर्मास इतिहास में एक स्वर्ण पृष्ठ जोडने का समय है। श्रद्धेय भगवंत श्रमण सूर्य, श्रमणसंघीय भीष्म पितामह, प्रवर्तक, मरूधर केसरी श्री मिश्रीमलजी म.सा. की दीक्षा शताब्दी एवं लोकमान्य संत प्रवर्तक रूपचंद म.सा. का दीक्षा हीरक जयंती (75 वर्ष) जोधपुर में आयोजित की जायेगी। रूपचंद म.सा., हरीशमुनि म.सा. एवं मुकेशमुनि म.सा. ने जैन भवगती दीक्षा जोधपुर में ही अंगीकार कर जैन श्रमण जीवन की शुरूआत की थी।
संघ सरंक्षक महेन्द्र भंसाली ने बताया कि संतों एवं महासंतियां के स्वागत हेतु जोधपुर जैन समाज आतुर है। प्रवेश कार्यक्रमों के तहत 29 जून को सरस्वती नगर स्थित इंदरचंद माहेनलाल देशलहरा के निवास स्थान पर, 30 जून को भगत की कोठी स्थित महेन्द्र भंसाली के निवास पर, 1 जुलाई को राईकाबाग स्थित सुरेश भंडारी के निवास पर, 2 जुलाई को पावटा पोलो द्वितीय में शांतिलाल बोहरा के निवास पर प्रवचन होगा तथा 3 जुलाई को प्रात: 7.30 बजे प्रवेश भव्य शोभा यात्रा निकाली जायेगी। 
 
 
 
 
 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS