आमने-सामने
मैंने एक्शन फिल्मों की नई परिभाषा गढ़ी: विद्युत जामवाल
By Deshwani | Publish Date: 3/3/2017 10:50:16 AM
मैंने एक्शन फिल्मों की नई परिभाषा गढ़ी: विद्युत जामवाल

रीतू तोमर

नई दिल्ली,  (आईपीएन/आईएएनएस)। फिल्म ’कमांडो’ से एक्शन हीरो के रूप में पहचान बना चुके अभिनेता विद्युत जामवाल अब इसी फ्रेंचाइजी की दूसरी फिल्म ’कमांडो 2’ से तीन साल बाद बड़े पर्दे पर वापसी करने जा रहे हैं। वह खुद को एक्शन हीरो कहे जाने से उत्साहित और टाइगर श्रॉफ से तुलना किए जाने पर खुश हैं। हालांकि, वह मानते हैं कि देश के असली एक्शन हीरो वही हैं।

विद्युत ने आईएएनएस के साथ साक्षात्कार में बताया, “कमांडो’ को बेहतरीन एक्शन का एक्सपेरिमेंट कहा जा सकता है और उस एक्सपेरिमेंट के सफल होने के बाद हम सभी पर जिम्मेदारियां बढ़ गई थीं। खुशी है कि लोगों को पहली फिल्म का एक्शन पसंद आया। दूसरी फिल्म में कुछ बेहतर करना था और बेहतर एक्शन के साथ ही ’कमांडो 2’ तैयार है।

क्या एक्शन हीरो के रूप में टाइपकास्ट होने पर विद्युत को डर नहीं लगता? इसका जवाब देते हुए वह कहते हैं, “मैं मुंबई एक्शन हीरो बनने ही आया था और अब सभी मुझे एक्शन हीरो कहते हैं तो मन की मुराद पूरी हो गई है। अच्छी चीजों के लिए टाइपकास्ट होने में बुराई नहीं है। एक्शन हीरो कहे जाने पर गर्व होता है।“

’कमांडो-2’ तीन साल के अंतराल के बाद पर्दे पर आ रही है। इन तीन सालों में वह क्या कर रह थे? विद्युत कहते हैं, “इस दौरान मैंने तिग्मांशु धूलिया की फिल्म ’यारा’ की शूटिंग की। इस फिल्म में मैंने 21 से लेकर 50 सला तक के शख्स का किरदार निभाया है, जिसके लिए पहले 20 किलो वजन बढ़ाया और फिर 20 किलो घटाया। इसके बाद ’कमांडो 2’ की सात महीने की ट्रेनिंग औ एक महीने की एकिं्टग वर्कशॉप ने व्यस्त रखा।“

विद्युत एक्शन हीरो के तौर पर टाइगर श्रॉफ से तुलना करने पर कहते हैं, “ टाइगर मेरा बहुत अच्छा दोस्त है। वह बहुत अच्छा एक्शन हीरो, डांसर और अभिनेता है। मुझे लगता है कि अच्छा एक्शन करने वाले इस तरह के और लोग इंडस्ट्री में होने चाहिए। हमारे देश में एक्शन फिल्मों की मांग बहुत ज्यादा है और अब लोग रियलिस्टिक एक्शन देखना पसंद करते हैं। मुझे खुशी है कि मैं वह तब्दीली लेकर आया हूं।“

विद्युत की कॉमेडी फिल्म करने की भी तमन्ना है। वह कहते हैं, “मैं अपने पूर करियर में सिर्फ एक्शन फिल्में नहीं करना चाहता हूं। मेरी कॉमिक टाइमिंग अच्छी है और यह जॉनर मुझे लुभाता भी है तो मैं जरूर कॉमेडी फिल्म करना चाहूंगा। हालांकि, ’कमांडो 2’ में मेरा कोई कॉमेडी सीन नहीं है, इसमें मेरे रोमांटिक सीन अच्छे हैं।“

फिल्म में अदा के साथ काम करने के अनुभव के बारे में विद्युत कहते हैं कि मुझे लगता है कि लोगों को हमारी कैमिस्ट्री पसंद आएगी। हमारी ट्यूनिंग फिल्म में जबरदस्त रही है।  विद्युत करोड़ी क्लब में विश्वास नहीं रखते। वह कहते हैं, “मैं अभी करियर के उस पड़ाव पर हूं जहां मुझे सिर्फ अफना बेस्ट देना है। मेरे लिए 100, 200 या 300 करोड़ रुपये की कमाई मायने नहीं रखती। जरूर, हमारे निर्दशक और निर्माता के लिए यह जरूरी होगा।“ वह सेंसर बोर्ड के हाल के विवादों पर चुटकी लेते हुए कहते हैं कि यह मेलोड्रामा ’कमांडो 3’ की स्क्रिप्ट के लिहाज से बेहतरीन होगा।

फिल्म के निर्माता विपुल शाह और बाकी की कास्ट विद्युत के एक्शन सीन के कायल हैं और उन्हें हॉलीवुड के एक्शन हीरो से ज्यादा बेहतर भी मानते हैं। इसके जवाब में विद्युत कहते हैं, “हॉलीवुड की एक्शन फिल्मों से हमारी फिल्मों की तुलना करना ठीक नहीं होगा। उनकी फिल्मों का बजट 3,000 करोड़ रुपये होता है और तकनीक आधारित एक्शन पर ज्यादा जोर रहता है। खुशी है कि हम रियलिस्टिक एक्शन की ओर बढ़ रहे हैं।“ 

COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS