ब्रेकिंग न्यूज़
मधेपुरा
कटाव व संभावित बाढ़ के दहशत से लोग कर रहे पलायन
By Deshwani | Publish Date: 14/8/2017 10:46:32 AM
कटाव व संभावित बाढ़ के दहशत से लोग कर रहे पलायन

मधेपुरा , (हि.स.) | कोसी में वाटर डिस्चार्ज अत्यधिक होने से बिहार की शोक कही जाने वाली कोसी नदी अपना रौद्र रूप दिखाने लगी है .जलस्तर में लगातार बढ़ोतरी हो रही है. तटीय इलाकों में कोसी नदी कटाव से भीषण कहर बरपा रही है। बीते 2 सप्ताह से लगातार हो रहे भीषण कटाव से चौसा प्रखंड अंतर्गत मोरसंडा पंचायत के श्रीपुर;,परबत्ता, अजगैबा , रामचरन टोला, करेलिया, मुसहरी, ढ़ोढ़ाय बासा, धाने-माने डीह, तीनमूँही, सहित ग्रामीणों में दहशत है. कटाव और संभावित बाढ़ के दहशत से गांव के लोग सुरक्षित जगहों की ओर पलायन करने लगे हैं. दो टुकड़ो में बंटा गाइड बांध बीते एक सप्ताह से लगातार हो रहे भीषण कोसी कटाव से गाइड बांध दो टुकड़ों में बंट गया है|
अजगेवा से श्रीपुर तक जाने वाली सड़क श्रीपुर पुल के पास सड़क ध्वस्त हो जाने से चौसा प्रखंड अंतर्गत मोरसंडा पंचायत श्रीपुर के तकरीबन 200 की आबादी वाले इस गांव पर संकट के बादल मंडराने लगे पुलिया के नीचे भाड़ी कटाव लग रहे है | ग्रामीण अपने बचाव करने के लिए अपने अपने घर से बोरा लाकर मिट्टी डालकर पुलिया के पास कटाव रोकथाम के लिए एक सौ बोरा दिए हुए है फिर भी पुलिया के समीप भीषण कटाव लग गया है. लगातार हो रहे कटाव से ऐसा प्रतीत हो रहा है कि श्रीपुर गाँव के बीच पुल का संपर्क पथ कभी भी ध्वस्त हो सकता है |
ग्रामीणों अशोक सिंह, फूचो सिंह ,विनोद सिंह, सुबोध सिंह, भागीरथ सिंह, जागृत सिंह, ईश्वर सिंह, कैलाश सिंह, एतवारी शर्मा ,हलधर सिंह ,छेदी शर्मा ,उपेंद्र सिंह ,घनश्याम सिंह, बिलाल सिंह, विजेंदर सिंह ,जितेंद्र सिंह ,फूलो शर्मा ,गुलचरण शर्मा, का कहना है की अविलंब बचाव कार्य युद्ध स्तर पर शुरू नहीं किया गया तो श्रीपुर से चौसा प्रखंड मुख्यालय या फुलौत जाने के लिए रास्ता भंग हो जाएगा और नाव के अलावे दुसरा कोई सुनिश्चित सुविधा उपलब्ध नही है सकता है । 
वही भागलपुर के जीरोमाइल से चौसा मधेपुरा की ओर जाने वाली सड़क नया नंबर 1 के समीप संपर्क पथ कभी भी विच्छेदित हो सकता है. आवागमन बाधित भी हो सकता है. ईस बाबत मे अंचलाधिकारी अजय कुमार पदाधिकारी ने कहा कि पुल निर्माण निगम के तरफ से बचाव कार्य जारी है. उम्मीद है इस स्थिति को जल्द ही नियंत्रित कर लिया जाएगा।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS