बिहार
अल्पसंख्यक नेताओं ने नीतीश के फैसले की सराहना की
By Deshwani | Publish Date: 29/7/2017 6:55:09 PM
अल्पसंख्यक नेताओं ने नीतीश के फैसले की सराहना की

किशनगंज, (हि.स.)। सुबे में एनडीए -जदयू की सरकार फिर अस्तित्व में आने के बाद स्थानीय जिला जदयू अति पिछड़ा प्रकोष्ठ कार्यालय पर जिला जदयू इकाई ने स्वागत किया और विकास पुरुष मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के फैसले का स्वागत किया। प्रेस वार्ता की अध्यक्षता करते हुए जिला अध्यक्ष फिरोज अंजुम ने राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद व कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि परिवारवाद, जातिवाद की राजनीति के चलते लालू -नीतीश का साथ टूट गया है। उन्होंने कहा कि जिले के सभी प्रकोष्ठ के पदाधिकारी व सक्रिय कार्यकर्ता में हर्ष का माहौल है। सभी खुश हैं । 

जदयू नेता बुलन्द अख्तर हासमी ने कहा कि राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद की हठधर्मिता एवं कांग्रेस नेताओं की खामोशी ने महागठबंधन की सरकार की बलि चढ़ा दी | इसमें हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष सह नयी सरकार के मुखिया नीतीश कुमार जी पर कोई भी आरोप उनलोगों के राजनैतिक स्वार्थ के सफाया में बौखलाहट का परिणाम है | हमारे मुखिया नीतीश कुमार ने अनैतिकता से समझौता कभी नहीं किया है और न करेंगे । इसीलिए उनका फैसला हम सबों ने हर्ष के साथ स्वीकार किया है | वक्ती तौर पर कुछ अकलियतों में नराजगी हो सकती है, मगर बीते दिनों में भी एनडीए के साथ सुबे में 17 साल के कार्यकाल में भी अकलियतों का न्याय के साथ विकास हुआ था और अब तो और भी तेज गति से अकलियतों का विकास होगा । क्योंकि आज का समय में राज्य व केन्द्र की सरकार में समानता हो गयी है।
राज्य परिषद के सदस्य प्रहलाद सरकार ने कहा कि हमारे मुखिया नीतीश कमार की छवि बेदाग रही है | इस छवि की आड़ में वे लोग अपने राजनीतिक जनाधार पाने की कोशिश में स्वार्थ बंधन किया था, न कि वह महागबंधन धर्म निभा रहे थे। मौके पर अति पिछड़ा प्रकोष्ठ जिला अध्यक्ष नूर मोहम्मद, मो असलम एवं जिला प्रवक्ता कमाल अंजुम आदि प्रमुख थे।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS