खगड़िया
पटना नौका हादसे ने दिलाई फुलतोड़ा की याद
By Deshwani | Publish Date: 15/1/2017 1:11:54 PM
पटना नौका हादसे ने दिलाई फुलतोड़ा की याद

खगड़िया, (हि.स.)। राजधानी पटना में पतंगोत्सव मनाकर लौटने के क्रम में एनआईटी घाट पर हुए नौका हादसे ने खगड़ियावासियों को फुलतोड़ा नौका हादसे की याद दिला दी। वर्ष 2009 में विजयादशमी का मेला देखकर लौट रहे 100 से अधिक श्रद्धालुओं से भरी नाव फुलतोड़ा घाट पर डूब गई थी। इस घटना में 60 से अधिक लोगों के डूबने की पुष्टि की गई थी। 

उक्त घटना के बाद से ही राज्य सरकार ने नौका परिचालन के संबंध में कई दिशा-निर्देश तय किए थे लेकिन राजधानी पटना में आला अधिकारियों के नाक के नीचे जिस तरह नियम-कानून को ठेंगा दिखाते हुए लोगों के जीवन के साथ खिलवाड़ किया गया इसकी भरपाई क्या लाखों-करोड़ों रुपये का मुआवजा कर सकता है। पटना के नौका हादसे को लेकर प्रशासनिक विफलता की चौरतफा आलोचना हो रही है। लोगों का कहना है कि विगत 12 जनवरी को जब मुख्यमंत्री खगड़िया आए थे तो हजारों की संख्या में पुलिस बल की तैनाती की गई थी लेकिन पतंगोत्सव मनाने सबलपुर दियारा आमंत्रित किए गए हजारों लोगों के बीच व्यवस्था बनाए रखने के लिए न तो पर्याप्त संख्या में पुलिस बल थे और न ही नाव की व्यवस्था। युवा शक्ति के प्रदेश अध्यक्ष नागेन्द्र सिंह त्यागी ने कहा कि हादसा के वक्त की सामने आई वीडियो फुटेज से पूरा बिहार देश-दुनिया के सामने शर्मसार हुआ है। दुर्घटनाग्रस्त नाव की हालत बिहार की व्यवस्था को आदम जमाने की साबित कर रही है। क्या बिहार के लोगों के नियति यूं ही व्यवस्था के दोष की बलिवेदी पर न्योछावर होना लिखा है? 

COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS