झारखंड
होमगार्ड जवानों को अब मिलेगा 500 रु. दैनिक भत्ता : रघुवर
By Deshwani | Publish Date: 6/12/2017 3:18:48 PM
होमगार्ड जवानों को अब मिलेगा 500 रु. दैनिक भत्ता : रघुवर

रांची, (हि .स.)। झारखंड में होमगार्ड के जवानों को 400 रुपये प्रतिदिन दिए जाने वाले भत्ते को बढ़ाकर अब 500 रुपये प्रतिदिन किया जा रहा है। यह ऐलान सूबे के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को यहां किया।
मुख्यमंत्री बुधवार को धुर्वा स्थित गृह रक्षा वाहिनी के 55वें स्थापना दिवस एवं गृह रक्षा वाहिनी तथा अग्निशमन सेवा की वेबसाइट के लोकार्पण अवसर पर जवानों को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने कहा कि चास, बुंडू, बरहेट,चांडिल हुसैनाबाद और खूंटी के अलावा वासुकीनाथधाम में भी अग्निशमन की एक इकाई का गठन किया जा रहा है। वासुकीनाथ धाम के धार्मिक महत्व और प्रतिदिन हजारों हजार की संख्या में आने वाले पर्यटकों को ध्यान में रखते हुए सुरक्षात्मक उपाय के तहत यह निर्णय लिया गया है। 
मुख्यमंत्री ने इस बात पर विशेष जोर दिया कि गृह रक्षा वाहिनी हो, पुलिस बल हो या अन्य कोई सुरक्षा बल हो, मेरी अपील है कि अनुशासन, कर्तव्यपरायणता के साथ-साथ अपने आप को सजग और चुस्त दुरुस्त रखें । उन्होंने कहा कि आम जनता के मन में सेना और पुलिस बल के प्रति विशेष सम्मान का भाव रहता है। इसलिए आम जनता के मन में यह सम्मान और विश्वास ऐसे ही कायम रहे, इसके लिए आवश्यक है कि हम अनुशासन और फिटनेस को बनाए रखें। उन्होंने कहा कि हमारी आपकी निजता से देश कहीं ऊपर है। आइए, हम सब देश के लिए जियें और देश के लिए ही अपना सर्वस्व दें। उन्होंने कहा कि हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का यह सपना है कि एक ऐसा भारत का निर्माण हो जिसमें हर व्यक्ति सुरक्षित हो, पूरी ईमानदारी और निष्ठा से लोग देश को बनाने के काम में जुटें। जवाबदेह और पारदर्शी प्रशासन हो। हमें इस ओर काम करना चाहिए। पारदर्शी शासन हमारी प्रतिबद्धता है। मुख्यमंत्री ने वेबसाइट के उद्घाटन पर कहा कि इससे पारदर्शी व्यवस्था बहाल होगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि गृह रक्षा वाहिनी का उदय सन 1962 में भारत-चीन युद्ध के दौरान सैनिक बल की आवश्यकता महसूस करते हुए हुआ था। आज पूरे देश में गृह रक्षा वाहिनी के जवान कर्तव्य अनुशासन और निष्ठा के साथ लगभग अधिकांश राज्यों में अपनी बहुमूल्य सेवाएं दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि रक्षा वाहिनी के 3000 जवानों की नियुक्ति हुई है और इनका प्रशिक्षण वर्तमान चुनौतियों को ध्यान में रखते हुए कराये जाने का निर्देश मैंने दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में ऐसी व्यवस्था हो सब लोग स्वयं कानून का पालन करें । अनुशासित यातायात व्यवस्था बहाल रहे। यातायात व्यवस्था को सुचारु रुप से चलाने के लिए होमगार्ड के जवानों का भी उपयोग किया जाएगा। 
इस मौके पर होमगार्ड डीजी बीबी प्रधान ने कहा कि होमगार्ड की कार्यशैली में पूरी पारदर्शिता लाने का हाल के दिनों में प्रयास किया गया है। इसी को लेकर होमगार्ड की वेबसाइट बनायी गयी है जिसमें होमगार्ड से संबंधित सारी जानकारी रहेगी। कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने परेड का निरीक्षण किया। इस मौके पर सीएम को स्मृति चिन्ह और रुद्राक्ष का पौधा भी भेंट किया गया। इसके बाद बैंड डिस्प्ले का भी आयोजन किया गया। डीआईजी (होमगार्ड) ने कार्यक्रम का धन्यवाद ज्ञापन किया। 
इस मौके पर मुख्य सचिव राजबाला वर्मा, गृह विभाग के प्रधान सचिव एसकेजी रहाटे, पुलिस महानिदेशक डीके पांडेय, गृह रक्षा वाहिनी के महानिदेशक बीबी प्रधान, केएस मीणा, पीआर के नायडू सहित पुलिस विभाग के आला अधिकारी और बड़ी संख्या में गृह रक्षा वाहिनी के जवान उपस्थित थे।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS