झारखंड
एक शिफ्ट में रेलवे आरक्षण काउंटर चलने से लोग परेशान
By Deshwani | Publish Date: 19/6/2017 1:24:29 PM
एक शिफ्ट में रेलवे आरक्षण काउंटर चलने से लोग परेशान

हजारीबाग, (हि.स.)। रेलवे के कम्प्यूटर आरक्षण काउंटर के एक शिफ्ट चलने से स्थानीय लोगों को आरक्षित टिकट बनवाने और कैंसिल कराने में परेशानी हो रही है। यह काउंटर सुबह के शिफ्ट आठ बजे से दो बजे तक ही संचालित हो रहा है। दोपहर बाद दो बजे से आठ बजे का शिफ्ट बंद है। हालांकि पूर्व में अन्नदा कॉलेज के पास स्थित पालिका मार्केट में जब यह काउंटर संचालित था, तो दोनों शिफ्टों में इसका संचालन किया जाता था। करीब दो माह पूर्व इस कम्प्यूटरीकृत आरक्षण केन्द्र सह काउंटर को हजारीबाग रेलवे स्टेशन पर स्थानांतरित किया गया। हजारीबाग रेलवे स्टेशन (स्वयं के परिसर) में काउंटर के स्थापित होने के बाद इसकी समय सीमा घटा दी गई।

इस कारण लोगों को काफी परेशानी हो रही है। लोगों को मजबूरन दिन के दो बजे के बाद से रात्रि के आठ बजे तक आरक्षित टिकट बनवाने से लेकर इसे कैंसिल करवाने के लिए निजी काउंटर का सहारा लेना पड़ता है। निजी काउंटर से सेवा लेने में प्रति टिकट अलग से राशि शुल्क के रूप में देनी पड़ती है। हजारीबाग स्थित पालिका मार्केट में कम्प्यूटरकृत काउंटर के दोनों शिफ्ट चालू रहने के बाद भी ग्राहकों की लंबी लाइन टिकट कटवाने एवं कैंसिल करवाने के लिए लगी रहती थी। अब इस काउंटर को केवल एक शिफ्ट चलाना समझ से परे है। स्थानीय नेताओं कहना है कि यह सीधे-सीधे रेल अधिकारियों के मिलीभगत कर निजी संचालकों को उपकृत करने का प्रयास है।

इस संबंध में रेलवे के आरक्षण काउंटर को महज एक शिफ्ट चलाने से यात्रियों को हो रही परेशानी का जिक्र किए जाने पर केन्द्रीय नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं थी। अब उन्हें जानकारी मिली है, तो इस दिशा में वे रेल मंत्री और वरीय अधिकारियों से बात करेंगे। उन्होंने जल्द ही इस दिशा में अपेक्षित कार्रवाई किए जाने का भरोसा दिया।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS