झारखंड
विकास के साथ पर्यावरण की सुरक्षा भी जरूरी : जयंत सिन्हा
By Deshwani | Publish Date: 13/7/2017 7:08:23 PM
विकास के साथ पर्यावरण की सुरक्षा भी जरूरी : जयंत सिन्हा

हजारीबाग, (हि.स.)। केन्द्रीय नागरिक उड्डयन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने गुरुवार को विनोबा भावे विश्वविद्यालय में 68वें वन महोत्सव का उद्घाटन पौधारोपण कर किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि तेज गति से विकास के साथ पर्यावरण की सुरक्षा जरूरी है। उन्होंने वन महोत्सव को अभियान बनाकर कार्य करने का आह्वान किया। यह कार्य सभी के सहयोग से संभव है। सिन्हा ने कहा कि उनकी सरकार चहुंमुखी विकास के लिए काम कर रही है। जीएसटी के माध्यम से विकास में क्रांति लाने का काम किया गया है। सरकार आर्थिक विकास के साथ सामाजिक विकास के लिए काम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि शौचालय के साथ-साथ महिलाओं की स्थिति बेहतर करने के लिए उज्ज्वला योजना के तहत गैस कनेक्शन उपलब्ध कराया गया है। मंत्री ने स्वच्छ और सुंदर हजारीबाग बनाने के लिए लोगों को कार्य करने की बात कही। विभावि के कुलपति प्रो. रमेश शरण ने कहा कि प्रकृति न केवल हमें आकर्षित करती है बल्कि हमें सुकून देती है। उन्होंने विश्वविद्यालय में ग्रीन कैंपस बनाने के साथ इसे डिजिटल और स्मार्ट बनाए जाने की योजना की जानकारी दी।
क्षेत्रीय मुख्य वन संरक्षक संजीव कुमार ने कहा कि लोगों के सहयोग से वन बचाया जा सकता है। उन्होंने वन महोत्सव को अभियान के रुप में चलाने की बात कही। उन्होंने कहा कि हजारीबाग पूर्वी प्रमंडल में 55 लाख पौधा लगाया जायेगा। सिर्फ हजारीबाग जिला में 22 लाख पौधा लगाया जायेगा। कार्यक्रम को प्रति कुलपति डाक कुनील कंडिर ने भी संबोधित किया। कार्यक्रम का संचालन डा सुकल्याण मोइत्रा ने किया। इस अवसर पर वन विभाग के कई अधिकारी उपस्थित थे।
 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS