ब्रेकिंग न्यूज़
राज कपूर की आरके स्टूडियो में लगी आगपीएमजी ने शुभांरभ किया मोतिहारी में 'माई स्टांप' काउंटर, बनाइए अपनी तस्वीर का डाक टिकटगोलियों से थर्राया कल्याणपुर का इलाका, पुलिस व बदमाशों के बीच घंटों मुठभेड़निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान का प्रमोशन, कैबिनेट मंत्री पद की ली शपथमोदी कैबिनेट : सभी नये चेहरे राज्यमंत्री और धर्मेंन्द्र, पीयूष, निर्मला व मुख्तार को प्रमोशनआज ब्रिक्स सम्मेलन में भाग लेने चीन रवाना होंगे पीएम मोदीमंत्रिमंडल में शामिल होने वाले सांसदों ने की प्रधानमंत्री से मुलाकातमोदी कैबिनेट विस्तार पर नीतीश का बड़ा बयान, हमलोगों को नहीं है कोई जानकारी
झारखंड
सूख गई विशुनपुरा की बांकी नदी
By Deshwani | Publish Date: 1/5/2017 1:53:55 PM
सूख गई विशुनपुरा की बांकी नदी

गढ़वा। विशुनपुरा की लाइफ लाइन कही जाने वाली बांकी नदी सूख गई है। नदी के सूख जाने से निकटवर्ती गांव दर, जतपुरा, पिपरी, सोनडीहा, अमहर, महुली, संध्या गांव में हैंडपम्प और कुआं का जलस्तर काफी तेजी से नीचे जाने लगा है। हैंडपम्प पानी कम देने लगे हैं। नदी के सूख जाने से मनुष्यों के साथ मवेशी के लिए पानी की चिंता सताने लगी है। इसका सबसे ज्यादा असर प्रखंड मुख्यालय से सटे जंगली क्षेत्र माना जानेवाले करकटिया, देवगुड़वा, ओढ़ेया, पातो और सारो गांव के ग्रामीण और मवेशियों पर पड़ा है। इस क्षेत्र के सभी छोटी-बड़ी नदी-नाले और तालाब भी सूख गए हैं। 

पालतू जानवर के साथ-साथ जंगली जानवरों को भी परेशानी बढ़ने लगी है। नतीजतन नदी में बने गड्ढों में जमे पानी से अपनी प्यास बुझाने जंगली जानवर पहुंच रहे हैं। कई जानवर इधर-उधर भटकते नजर आ रहे हैं। पानी और भोजन की तालाश में गांव की ओर अपना रूख कर रहे हैं। जंगली सुअर, खरहा, हिरण जैसे जानवर प्यास बुझाने के चक्कर में शिकारियों के हत्थे चढ़ रहे हैं।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS