ब्रेकिंग न्यूज़
राज कपूर की आरके स्टूडियो में लगी आगपीएमजी ने शुभांरभ किया मोतिहारी में 'माई स्टांप' काउंटर, बनाइए अपनी तस्वीर का डाक टिकटगोलियों से थर्राया कल्याणपुर का इलाका, पुलिस व बदमाशों के बीच घंटों मुठभेड़निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान का प्रमोशन, कैबिनेट मंत्री पद की ली शपथमोदी कैबिनेट : सभी नये चेहरे राज्यमंत्री और धर्मेंन्द्र, पीयूष, निर्मला व मुख्तार को प्रमोशनआज ब्रिक्स सम्मेलन में भाग लेने चीन रवाना होंगे पीएम मोदीमंत्रिमंडल में शामिल होने वाले सांसदों ने की प्रधानमंत्री से मुलाकातमोदी कैबिनेट विस्तार पर नीतीश का बड़ा बयान, हमलोगों को नहीं है कोई जानकारी
झारखंड
सीएम रघुवर दास ने किया ऐलान, नगर उंटारी अब होगा बंशीधर नगर
By Deshwani | Publish Date: 26/3/2017 8:43:57 PM
सीएम रघुवर दास ने किया ऐलान, नगर उंटारी अब होगा बंशीधर नगर

गढ़वा। मुख्‍यमंत्री रघुवर दास ने नगर उंटारी का नाम बदलकर बंशीधर नगर करने का ऐलान किया है। सीएम ने रविवार को नगर उंटारी में बंशीधर महोत्‍सव के पहले दिन पूजा-अर्चना की। सांसद बीडी राम ने नाम परिवर्तित करने की सिफारिश की थी। इसके बाद सीएम ने नाम बदलने का ऐलान कर दिया। महोत्सव में महंतों ने विशेष मंत्रोच्‍चार के साथ मुख्‍यमंत्री की ओर से पूजा करवायी। इस अवसर पर स्‍थानीय नेताओं ने मुख्‍यमंत्री को स्‍वागत किया। मुख्यमंत्री ने बंशीधर मंदिर के सुंदरीकरण कार्य का उद्घाटन भी किया। बंशीधर महोत्सव को लेकर भवन निर्माण विभाग ने 20 लाख रुपये की लागत से मंदिर का सुंदरीकरण कराया है। भवन निर्माण विभाग द्वारा महोत्सव को लेकर मंदिर के बाहर व अंदर टाइल्स, रेलिंग निर्माण, मंदिर का रंग रोगन व मंदिर परिसर में लाईट लगाने का कार्य कराया गया है। दो दिनी महोत्‍सव में सांस्‍कृतिक कार्यक्रम का भी आयोजन किया गया। परिसर के चारो ओर मेला लगाया गया है। रविवार को मौके पर मंत्री रामचन्द्र चन्द्रवंशी, डीसी नेहा अरोड़ा, एसपी आलोक, विधानसभा में सातधारी दल के मुख्य सचेतक राधा कृष्ण किशोर, विधायक आलोक चौरसिया, विधायक सतेन्द्र नाथ तिवारी, भाजपा नेता शारदा महेश प्रताप देव, भाजपा जिलाध्यक्ष ओमप्रकाश केशरी सहित कई लोग उपस्थित थे। नई दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज मन की बात कार्यक्रम के जरिये देश की जनता को संबोधित किया। रेडियो और दूरदर्शन पर रविवार सुबह 11 बजे प्रसारित 30वें मन की बात कार्यक्रम में प्रधानमंत्री मोदी ने 30 मिनट देशवासियों को सम्बोधित करते हुए कई अहम मुद्दों पर बात की।

उन्होंने इस दौरान चंपारण सत्याग्रह, 23 मार्च 1931 के शहीद भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरु की शहादत, सर्वजन हिताय के मूल मंत्र, पर्यावरण को लेकर एक दिन पट्रोल-डीजल का इस्तेमाल नहीं करने, भोजन की बर्बादी रोकने, योग, प्राणायाम, डिजिटल पेमेंट, स्वच्छ भारत अभियान, मातृत्व अवकाश जैसे मुद्दों पर अपनी बात कही। साथ ही उन्होंने रामनवमी, बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर जयंती, महावीर जयंती और चैत्र शुक्ल प्रतिपदा की देशवासियों को बधाई भी दी।
उन्होंने कहा है कि चंपारण सत्याग्रह में महात्मा गांधी की संगठन शक्ति सामने आई थी। सामाजिक जीवन की शुरुआत करने वाले चंपारण सत्याग्रह को अवश्य जानें। गांधी जी देश की नब्ज को समझते थे। गांधी जी ने संघर्ष और निर्माण दोनों सिखाया। देश के 125 करोड़ लोग नया भारत बनाना चाह रहे हैं। नव भारत निर्माण कोई सरकारी कार्यक्रम नहीं, पूरे देश का कार्यक्रम है। सर्वजन हिताय के मूल मंत्र को लेकर देश के लोगों की मदद करना ही हमारा असली मकसद है।
उन्होंने देशवासियों से अपील करते हुए कहा कि भोजन की बर्बादी रोकें। खाना फेंकना समाजद्रोह के समान है। गंदगी के खिलाफ मन में गुस्सा पैदा करना होगा। हम जरूरत से ज्यादा चीजें प्लेट में ले लेते हैं औऱ फिर जूठन छोड़ देते हैं। हमने कभी सोचा है कि अगर जूठन न छोड़ें तो उससे कितने गरीबों का पेट भरा जा सकता है। स्वच्छ भारत अभियान देश में आंदोलन बन चुका है। सबको स्वच्छता के लिए प्रयास करने चाहिए।
उन्होंने कहा है कि जो लोग शारीरक स्वास्थ्य के संबंध में जागरूक होते हैं वो पेट के साथ प्लेट भी थोड़ी ख़ाली रखते हैं। जब स्वास्थ्य की बात आई है तो 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य दिवस है और इसको याद रखना आवश्यक हो जाता है। संयुक्त राष्ट्र ने 2030 तक सबको स्वास्थ्य का लक्ष्य तय किया है।
उन्होंने कहा कि हम लोग भी डिप्रेशन शब्द से परिचित हैं जिसका शाब्दिक अर्थ अवसाद हैं। एक अनुमान के मुताबिक दुनिया के अन्दर 35 करोड़ से ज़्यादा लोग मानसिक रूप से, अवसाद से पीड़ित हैं। मुसीबत ये है कि हमारे अगल-बगल में भी इस बात को हम समझ नहीं पाते हैं और शायद इस विषय में खुल कर के बात करने में हम संकोच भी करते हैं। उन्होंने देशवासियों से अपील करते हुए कहा कि आपके आस पास जो भी हो रहा है उसकी चर्चा आप परिवार से अवश्य करें। योग, प्राणायाम से डिप्रेशन दूर होता है। अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर लोगों से सुझाव भी मांगे।
उन्होंने कहा कि देशवासी एक वर्ष में 2500 करोड़ डिजिटल लेन-देन करने का संकल्प कर ले इससे कालाधन के खिलाफ लड़ाई आगे बढ़ाने में मदद मिलेगी। नोटबंदी के बाद से डिजिटल पेमेंट में काफी वृद्धि देखने को मिली है। आगामी 14 अप्रैल को डॉ. बाबा साहेब अम्बेडकर की जन्म-जयंती है। उनकी जन्म-जयंती पर डिजि-मेला का समापन होने वाला है। अभी तक 1.5 करोड़ लोगों ने भीम ऐप डाउनलोड किया है।
उन्होंने कहा कि जो कामकाजी महिलाओं की संख्या दिनों-दिन बढ़ रही है। ये स्वागत योग्य है, लेकिन साथ-साथ, महिलाओं के पास विशेष ज़िम्मेवारियाँ भी हैं जैसे वो परिवार की ज़िम्मेवारियाँ संभालती हैं। घर की आर्थिक ज़िम्मेवारियाँ भी उनकों वहन करनी पड़ती है। उसके कारण कभी-कभी नवजात शिशु के साथ अन्याय हो जाता है। भारत सरकार ने एक बहुत बड़ा फ़ैसला भारत की माताओं बहनों के लिए किया है। कामकाजी वर्ग की महिलायें हैं, उनको प्रसूति के समय, मैटरनिटी लीव जो पहले 12 सप्ताह मिलती थी, अब उसे 26 सप्ताह कर दिया गया है। यह सरकार का ऐतिहासिक कदम है।
उन्होंने देशवासियों को 5 अप्रैल को रामनवमी की बधाई देते हुए कहा कि यह एक पावन पर्व है। 9 अप्रैल को महावीर जयंती की बधाई दी।14 अप्रैल को बाबा साहब आंबेडकर की जयंती की बधाई दी।
प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों को हिन्दू नववर्ष की शुभकामनायें देते हुए कहा कि दो दिन के बाद चैत्र शुक्ल प्रतिपदा, वर्ष प्रतिपदा, नव संवत्सर, इस नववर्ष के लिये समस्त देशवासियों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं। चैत्र मास की शुक्ल प्रतिपदा को गुड़ी पड़वा या वर्ष प्रतिपदा या उगादि (युगादि) कहा जाता है। इस दिन हिन्दू नववर्ष का आरम्भ होता है।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS