ब्रेकिंग न्यूज़
राज कपूर की आरके स्टूडियो में लगी आगपीएमजी ने शुभांरभ किया मोतिहारी में 'माई स्टांप' काउंटर, बनाइए अपनी तस्वीर का डाक टिकटगोलियों से थर्राया कल्याणपुर का इलाका, पुलिस व बदमाशों के बीच घंटों मुठभेड़निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान का प्रमोशन, कैबिनेट मंत्री पद की ली शपथमोदी कैबिनेट : सभी नये चेहरे राज्यमंत्री और धर्मेंन्द्र, पीयूष, निर्मला व मुख्तार को प्रमोशनआज ब्रिक्स सम्मेलन में भाग लेने चीन रवाना होंगे पीएम मोदीमंत्रिमंडल में शामिल होने वाले सांसदों ने की प्रधानमंत्री से मुलाकातमोदी कैबिनेट विस्तार पर नीतीश का बड़ा बयान, हमलोगों को नहीं है कोई जानकारी
झारखंड
धड़ल्ले से हो रहा उत्खनन कार्य, विभागीय अधिकारी मौन
By Deshwani | Publish Date: 8/6/2017 10:37:56 AM
धड़ल्ले से हो रहा उत्खनन कार्य, विभागीय अधिकारी मौन

गढ़वा,(हि.स.)। भवनाथपुर थाना क्षेत्र में अवैध रूप से पहाड़ों से पत्थर उत्खन्न का गोरखधंधा जोरों से चल रहा है। इन पत्थरों का उपयोग सड़क निर्माण में किया जा रहा है। जिससे जंगल सहित पहाड़ों को नुकसान होने के साथ लाखों रुपये के राजस्व की क्षति हो रही है। मामला भवनाथपुर थाना क्षेत्र के बुका गांव के लंगड़ी स्थित चरमहि पहाड़ का है, जहां से वन विभाग एवं सड़क निर्माण संवेदक की मिलीभगत से अवैध तरीके से पहाड़ से पत्थर का उत्खनन कई दिनों से चल रहा है। 
दोयम दर्जे के पत्थर का उपयोग भवनाथपुर बुका मोड़ मुख्य पथ से चेरवाडीह तक बन रहे कालीकरण पथ निर्माण में किया जा रहा है। इस संबंध में पत्थर तुड़ाई करने वाले मजदूर रीजन बासुदेव भुइंया, रमेश भुइंया, रामवृक्ष भुइंया बिश्वनाथ पासवान देवनाथ पासवान सहित कई मजदूरों ने बताया कि सड़क निर्माण में फिलिंग के लिए उपयोग हो रहे घटिया पत्थर का विरोध किया था लेकिन सड़क निर्माण संवेदक बबन सिंह ने सभी को पत्थर तुड़ाई के कार्य में लगा दिया। 
मजदूरों ने बताया कि उन्हें सड़क निर्माण संवेदक पांच रुपये प्रति ट्रैक्टर ट्रॉली मजदूरी भुगतान किया जाता है। संवेदक सड़क की फिलिंग के लिए घटिया और कमजोर पत्थरों का उपयोग कर सड़क की गुणवत्ता के साथ खिलवाड़ कर रहा है। दूसरी ओर पदाधिकारी एवं संवेदक की घालमेल से लाखों सरकारी राजस्व की नुकसान हो रही है। इस संबंध में रेंजर मुन्ना पासवान ने बताया कि उन्हें इस मामले की जानकारी नहीं है। मामले की जांच कराई जाएगी, जांचोपरांत दोषी पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS