फीचर
विधायक बनने की ललक में फिर एक बार कई लड़ाके आमने-सामने
By Deshwani | Publish Date: 17/2/2017 1:44:38 PM
विधायक बनने की ललक में फिर एक बार कई लड़ाके आमने-सामने

फतेहपुर, (आईपीएन)। 16वीं विधानसभा चुनाव अर्थात लोकतंत्र के महापर्व में इस बार भी कई ऐसे उम्मीदवार मैदान में है जो पिछले चुनाव में भी मुकाबला कर चुके है। ज्यों-ज्यों मतदान की तिथि नजदीक आती जा रही है ऐसी सीटों पर समीकरण बन और बिगड़ रहे है। जुगत का दौर भी शुरू हो गया है, लेकिन मतदाताओं की खामोशी को लेकर दलीय उम्मीदवारों की नींद हराम है। जिले की अधिकांश सीटों पर मुस्लिम मतदाता हमेशा से निर्णायक की भूमिका में रहा है। ऐसे में बसपा सहित सपा-कांग्रेस गठबंधन इन मतदाताओं को अपने पक्ष में रिझाने में जुटी है। उधर बसपा सुप्रीमो पर भाजपा से तीन बार मिलकर सरकार बनाने से मुस्लिम मतदाता बसपा के प्रति ज्यादा दिलचस्पी दिखाता फिलहाल नही दिख रहा है।

मालूम रहे कि जिले में कुल आधा दर्जन सीटें है जिनमें जहानाबाद, बिन्दकी, सदर फतेहपुर, अयाह-शाह, हुसैनगंज व खागा सुरक्षित शामिल है। जिलेभर में कुल मतदाताओं की संख्या 1787719 है। इनमें 973191 पुरूष व 814528 महिला वोटर है। जिले में चैथे चरण के लिए 23 फरवरी को मतदान कराया जायेगा। आधा दर्जन सीटों पर कुल 72 उम्मीदवार मैदान में ताल ठोंक रहे है। राष्ट्रीय व क्षेत्रीय दलों के 18 प्रत्याशियों के अलावा छोटे दलों सहित 54 अन्य उम्मीदवार भी मैदान में है।
जहानाबाद:- इस विधानसभा से समाजवादी पार्टी के मदन गोपाल वर्मा ने बसपा के समीर त्रिवेदी को भारी अंतर से पराजित कर जीत हासिल की थी। इस बार भी समाजवादी पार्टी ने वर्तमान विधायक मदन गोपाल वर्मा पर बाजी लगायी है। इस विधानसभा से पिछला चुनाव लड़ चुके लोकमंच के प्रत्याशी रहे आदित्य पाण्डेय इस बार चैधरी अजीत सिंह के नेतृत्व वाली रालोद से प्रत्याशी है। पिछली बार भी आदित्य पाण्डेय ने लगभग तीस हजार मत हासिल किये थे। यहाॅ से भाजपा गठबंधन के अपना दल प्रत्याशी जयकुमार जैकी व बसपा के रामनारायण निषाद किस्मत आजमा रहे है। इस विधानसभा में मतदाताओं की कुल संख्या 288871 है। जिनमें 160529 पुरूष व 128342 महिलायें है।
बिन्दकी:- इस विधानसभा से वर्ष 2012 के चुनाव में बहुजन समाज पार्टी के सुखदेव प्रसाद वर्मा ने लगातार दूसरी बार जीत दर्ज की थी। इससे पहले के चुनाव में सपा के अमरजीत सिंह जनसेवक लड़े थे। इस बार भी जनसेवक भारतीय लोकदल के सामने प्रत्याशी है। इसी विधानसभा से भाजपा के करण सिंह पटेल व रालोद की शाहीन हसन के अलावा सपा-कांग्रेस गठबंधन से रामेश्वर दयाल दयालू चुनाव मैदान में है। इस विधानसभा में कुल मतदाता 291972 है। जिनमें 160058 पुरूष व 131914 महिलायें है।
फतेहपुर सदर:- इस विधानसभा से वर्ष 2012 के चुनाव में समाजवादी पार्टी के सै. कासिम हसन चुनाव जीते थे, लेकिन बीच में ही उनका निधन हो जाने के कारण इस सीट में वर्ष 2014 के लोकसभा चुनाव के साथ उपचुनाव कराया गया था। मोदी की आंधी में भाजपा के विक्रम सिंह ने यहाॅ पर जीत दर्ज की थी। इस बार पार्टी ने फिर अपने वर्तमान विधायक विक्रम सिंह को मैदान में उतारा है। जबकि उनके सामने सपा ने नया चेहरा चन्द्र्रप्रकाश लोधी चेयरमैन नगर पालिका को टिकट दिया है। इसके अलावा बसपा से समीर त्रिवेदी व रालोद से विक्रम सिंह लोधी किस्मत आजमा रहे है। इस विधानसभा में मतदाताआंे की कुल संख्या 326564 है। जिनमें 173672 पुरूष व 152892 महिलायें है।
अयाह-शाह:- इस विधानसभा से वर्ष 2012 में बसपा के टिकट पर अयोध्या प्रसाद पाल लगातार चैथी बार जीते थे, लेकिन इस बार वह सपा के टिकट पर चुनाव मैदान में है। उनके सामने भाजपा के विकास गुप्ता व बसपा के रामबहादुर उर्फ तेज बहादुर सिंह के अलावा रालोद के भोले पाल भी ताल ठोंक रहे है। इस विधानसभा से पुनः सपा के टिकट पर अयोध्या पाल मैदान में तो है, लेकिन पिछली बार के योद्धा इस बार परिदृश्य से गायब है। इस विधानसभा में मतदाताओं की कुल संख्या 255130 है। जिनमें 139717 पुरूष व 115413 महिलायें है।
हुसैनगंज:- इस विधानसभा से पिछली बार बसपा के टिकट पर मो. आसिफ मामूली अंतर से चुनाव जीतने में कामयाब हो गये थे। उनके मुकाबले में भाजपा के रणवेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ धुन्नी सिंह तथा कांग्रेस की ऊषा मौर्या के अलावा सपा के राफे राना चुनाव लड़े थे। कांग्रेस की ऊषा मौर्या दूसरे स्थान पर रहीं है। इस बार एक बार फिर रणवेन्द्र प्रताप सिंह व ऊषा मौर्या बसपा प्रत्याशी मो. आसिफ के सामने है। यहाॅ पर मतदाताओं की कुल संख्या 283240 है। जिनमें 154268 पुरूष व 128972 महिलायें है। 
खागा सुरक्षितः- इस विधानसभा से वर्ष 2012 के चुनाव में भाजपा की कृष्णा पासवान ने बसपा के मुरलीधर गौतम को हराया था। जबकि तीसरे नम्बर पर अपना दल के ओमप्रकाश गिहार ने मुकाम हासिल किया था। इस बार भी भाजपा ने अपनी वर्तमान विधायक कृष्णा पासवान सपा-कांग्रेस गठबंधन ने ओमप्रकाश गिहार, बसपा ने सुनील गौतम, भाकपा ने हीरालाल चैधरी को मैदान में उतारा है। जबकि छोटे दलों के दो अन्य उम्मीदवार मैदान में है। इस बार भी ओमप्रकाश गिहार व कृष्णा पासवान आमने-सामने है। यहाॅ कुल मतदाताओं की संख्या 318854 है। जिनमें 173149 पुरूष व 145705 महिलायें है।
इस बार देखना है कि आमने-सामने मुकाबला करने वाले किन प्रत्याशियों को मतदाता अपनी पसंद बनाकर विधानसभा भेजने का काम करता है। वैसे सभी उम्मीदवार अपनी जीत सुनिश्चित करने के लिए जीतोड़ कोशिश में लगे हुए है। 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS