झारखंड
सफलता के मुकाम को बरकरार रखना बड़ी चुनौती : लुईस
By Deshwani | Publish Date: 14/7/2017 7:11:40 PM
सफलता के मुकाम को बरकरार रखना बड़ी चुनौती : लुईस

दुमका, (हि.स.)। देश में शैक्षणिक एवं विकास का बेहतर महौल बना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत विश्व गुरु बनने की ओर अग्रसर है। उक्त बातें समाज कल्याण मंत्री डॉ लुईस मरांडी ने शुक्रवार को प्लस टू नेशनल स्कूल में आयोजित प्रतिभा सम्मान समारोह 2017 में कही। उन्होंने शिक्षकों एवं छात्रों से देश को विश्व गुरु बनाने में भूमिका सुनिश्चित करने की अपील की। वहीं छात्रों को कहा कि जो यहां तक पहुंचे, उन्हें बधाई एवं जो नहीं पहुंच पाये उन्हें आशीर्वाद देते हुए इस मुकाम तक पहुंचने की शुभकामनाएं दी। उन्होंने कहा कि पहली सफलता थोड़ा आसान है, लेकिन दूसरी सफलता उससे ज्यादा कठिन है। चुनौती है बेहतर करते हुए सफलता के मुकाम को बरकरार रखने का है। 

उन्होंने कहा कि पहले अच्छा नागरिक होना आवश्यक है। परिवार से ज्यादा विद्यालय में गुरु से संस्कार मिलता है। अच्छा नागरिक एवं देश के प्रति प्रेम की भावना प्रत्येक व्यक्ति में होना आवश्यक है। उन्होंने छात्रों से अपेक्षा जाहिर करते हुए कहा कि सभी के अभिभावक चाहते हैं कि बच्चे डॉक्टर, इंजीनियर बने, लेकिन मेरी इच्छा है कि जिले से विभिन्न सेक्टर में यहां के छात्र शिक्षक बने, जो अच्छे नागरिक के निर्माण में अपनी भूमिका निभा सके। उन्होंने उम्मीद जताते हुए कहा कि विधायक एवं मंत्री होने के नाते समस्या के समाधान करने का भरपूर प्रयास करेंगे, लेकिन अगले एकेडमिक वर्ष में विद्यायल का परिणाम 97 फीसदी से सौ फीसदी हो। 
विद्यालय प्रबंधन के मांगों पर मौके पर उन्होंने विधायक निधि से गर्ल्स कॉमन रूम 6 माह के अन्दर बनवाने एवं साईकिल शेड बनवाने का घोषणा की। वही क्लास रूम एवं सभागार को लेकर मौके से विभागीय मंत्री से बात कर जिला शिक्षा पदाधिकारी से आवश्यक प्रक्रिया प्रारंभ करने जा निर्देश दिया। उसके लिए विद्यालय प्रबंधन को जमीन एवं नक्शा मुहैया करवाने का निर्देश दिया। साथ ही छात्रों के बेहतर प्रदर्शन में सहयोग करने वाले शिक्षकों का भी सम्मान समारोह आयोजित करने का डीईओ को निर्देश दिया। विद्यालय प्रबंधन द्वारा मनरेगा सहित सरकारी योजनाओं को सिलेबस से हटाकर सामाजिक ज्ञान देने की पहल की सराहना करते हुए कहा कि छात्रों को इससे उच्चतर शिक्षा एवं सामाजिक ज्ञान में सहायक बनेगा।
कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि नगर पर्षद चेयरमैन अमिता रक्षित ने सम्मान प्रतियोगिता आयोजन को अच्छा करने का प्रेरणा स्रोत बताया। उन्होंने कहा कि सरकारी स्कूल के छात्रों के अच्छे प्रदर्शन पर भविष्य में निजी स्कूलों जाने वाले छात्रों की संख्या घटेगी और इससे आर्थिक बचत एवं निजी स्कूलों के मनमानी पर रोक लगेगी। प्रतिभा सम्मान समारोह में इंटर विज्ञान, इंटर कला, इंटर वाणिज्य एवं मैट्रिक के 10-10 टॉप छात्रों को प्रशस्ति पत्र एवं पदक देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में डीईईओ धुर्व कुमार, ओएसडी अश्विनी कुमार, पूर्व ओएसडी डॉ मदनेश्वर चौधरी, जीप सदस्य चिंता देवी, मुखिया चंद्रमोहन हांसदा, माध्यमिक शिक्षक संघ राज्याध्यक्ष दिवाकर महतो और वार्ड सदस्य बिनोद बिहारी शास्वत सहित विद्यालय शिक्षक एवं छात्र उपस्थित थे। 
 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS