ब्रेकिंग न्यूज़
राज कपूर की आरके स्टूडियो में लगी आगपीएमजी ने शुभांरभ किया मोतिहारी में 'माई स्टांप' काउंटर, बनाइए अपनी तस्वीर का डाक टिकटगोलियों से थर्राया कल्याणपुर का इलाका, पुलिस व बदमाशों के बीच घंटों मुठभेड़निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान का प्रमोशन, कैबिनेट मंत्री पद की ली शपथमोदी कैबिनेट : सभी नये चेहरे राज्यमंत्री और धर्मेंन्द्र, पीयूष, निर्मला व मुख्तार को प्रमोशनआज ब्रिक्स सम्मेलन में भाग लेने चीन रवाना होंगे पीएम मोदीमंत्रिमंडल में शामिल होने वाले सांसदों ने की प्रधानमंत्री से मुलाकातमोदी कैबिनेट विस्तार पर नीतीश का बड़ा बयान, हमलोगों को नहीं है कोई जानकारी
झारखंड
बूचड़खाने बंद होने से मांस के बाजार में सन्नाटा
By Deshwani | Publish Date: 4/4/2017 12:20:16 PM
बूचड़खाने बंद होने से मांस के बाजार में सन्नाटा

बूचड़खाने को बंद करने का असर दिख रहा बाजारों पर

चतरा, (हि.स.) । राज्य सरकार की ओर से अवैध रुप से संचालित बूचड़खाने को बंद करने का असर दिख रहा है। बूचड़खाने के बंद होने से मांस के बाजारों में सन्नाटा पसर गया है। सरकार के आदेश का प्रभाव केवल छोटे-बड़े शहरों में ही नहीं बल्कि गांवों तथा कस्बों में लगने वाले सप्ताहिक हाटों में भी देखने को मिल रहा है। शहर में लगने वाले साप्ताहिक बाजार में मांस तथा शराब बिकने वाले बाजार बिल्कुल सुनसान नजर आ रहे हैं। प्रशासन की चुस्ती से यह बंद सफल हो पाया । 

गौरतलब है कि प्रतापपुर में लगने वाला साप्ताहिक हाट दो भागों में बंटा हुआ है। एक तरफ साग सब्जी का लगने वाला दुकान होता है जबकि उसके कुछ ही दूरी पर मांस तथा शराब बिकने का बाजार रहता है। लेकिन अब बाजारों में सन्नाटा पसरा रह रहा है। इससे जुड़े व्यवसायियों का कहना है कि यह हमलोगों के जीविका का साधन था। लेकिन सरकार ने इस बंद करने का निर्णय लेकर हमलोगों की रोजगार को छिन लिया है। अब हमें जीविका के लिए दूसरा साधन देखना पड़ेगा।

COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS