बिहार
बगहा में चीनी मिल की मनमानी के विरोध में गन्ना किसानों का प्रदर्शन
By Deshwani | Publish Date: 12/1/2018 9:01:56 PM
बगहा में चीनी मिल की मनमानी के विरोध में गन्ना किसानों का प्रदर्शन

बगहा/चौतरवा, (हि.स.)। पश्चिम चम्पारण जिला के बगहा नगर स्थित तिरुपति सुगर मिल की मनमानी व रिजेक्ट गन्ना की वेरायटी नहीं लेने के विरुद्ध आज एनएच 28 बी के विसंभरापुर चौक पर किसानों ने उग्र प्रदर्शन किया।प्रदर्शन के दौरान आपूर्ति के लिए ले जा रहे ट्रक व ट्रैक्टर लदे गन्ना को किसानों ने रोक दिया। वहीं बगहा सुगर मिल के वरीय गन्ना प्रबंधक को उक्त स्थल पर बुलाने की मांग की। किसान सह सामाजिक कार्यकर्ता हीरालाल ठाकुर, गोपाल राव, ललन ठाकुराई, अनील ठाकुराई, मुन्ना राव, मुरारी सिंह, राजेश ठाकुराई, पवन कुमार जयसवाल, जतन साह, चन्द्रभान राव, दिनेश साह, राजीव राव, रुदल महतो, सत्यनारायण मुखिया, रुपेश कुमार, विजय महतो, लालसाहेब प्रसाद, बृजेश प्रसाद समेत सैकड़ों की संख्या में किसानों ने बताया कि बगहा सुगर मिल की मनमानी से रिजेक्ट गन्ना की वेरायटी की आपूर्ति नहीं की जा रही है। साथ ही गन्ना की प्रभेद सीआई एनटी 98224 को मनमानी तरीके से सामान्य से बदले निम्न प्रभेद का दर्जा देकर कम कीमत करके किसानों के बीच भुगतान की साजिश कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि गन्ना प्रभेद सारणी के अनुसार एसएन 37 सीओ 982 प्रभेद सामान्य में आता है। गत वर्ष भी सामान्य प्रभेद में था। भुगतान के साथ ही अन्य सुविधायें भी मिल द्वारा किसानों को दी गयी। किसानों ने बताया कि हरिनगर मिल द्वारा वर्तमान वर्ष में भी प्रभेद सीओ पीएएनटी 98224 सामान्य प्रभेद में रखकर किसानों की सारी सुविधायें दे रही है। लेकिन बगहा सुगर मिल के द्वारा मनमानी से किसान काफी परेशान हैं, परंतु मिल प्रबंधन के द्वारा उक्त गन्ना की प्रभेद को रिजेक्ट बता कर शोषण किया जा रहा है। सामान्य गन्ना की प्रभेद की सुविधाओं से किसानों को वंचित कर दिया गया है। किसान को परेशानी के साथ-साथ गन्ना के भुगतान में हजारों रुपये का नुकसान ऊठाने पर विवश हैं। किसानों ने बगहा सुगर मिल के गन्ना प्रबंधक को चेताया है कि समय रहते किसानों की रिजेक्ट गन्ना वेरायटी को सामान्य गन्ना प्रभेद में रखकर तौल नहीं कराया गया तो किसान विवश होकर जनआंदोलन पर ऊतारू हो जायेंगे। आपूर्ति के लिए ले जा रही बगहा सुगर मिल में ट्रक, ट्रैक्टर लदे गन्ना को सदैव के लिए रोक देंगे जिसकी सारी जवाबदेही बगहा सुगर मिल के गन्ना प्रबंधक की होगी। वहीं चीनी मिल प्रबंधक वाई एस भटनागर ने बताया है कि बिहार सरकार के आदेश में यह रिजेक्ट गन्ना शामिल नहीं है, इसलिए यह गन्ना नहीं लिया जा रहा है।

 

COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS