ब्रेकिंग न्यूज़
श्रीलंका ने भारत के सामने रखा 217 रनों का लक्ष्य, अक्षर पटेल ने लिये 3 विकेटअमित शाह ने की शिवराज की तारीफ, कहा- बीमारू प्रदेश को विकास के रास्ते पर ले आयेमुजफ्फरनगर ट्रेन दुर्घटना में क्षतिग्रस्त ट्रैक पर आज रात 10 बजे तक ट्रेनों का संचालन संभव होगामुजफ्फरनगर रेल हादसाः मेरठ लाइन पर शाम 6 बजे तक ट्रेनें रद्द, कई ट्रेनों का रूट बदला गयाकई निर्दोष लोगों की जान लेनेवाला एके 47 जब्त, दीपक पासवान व मुन्ना पाठक सलाखों के पीछेमुजफ्फरनगर में बड़ा ट्रेन हादसा, कलिंग उत्कल एक्सप्रेस के 6 डब्बे पटरी से उतरे, 5 की मौत, 50 से अधिक घायलराष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में जदयू ने किया राजग में शामिल होने का फैसला।जेडीयू पर अपना दावा पेश करेंगे शरद यादव, जाएंगे चुनाव आयोग
बिहार
पत्रकार राजदेव रंजन कांड :मो. शहाबुद्दीन की मुश्किलें बढ़ीं
By Deshwani | Publish Date: 19/6/2017 6:42:46 PM
पत्रकार राजदेव रंजन कांड :मो. शहाबुद्दीन की मुश्किलें बढ़ीं

मुजफ्फरपुर, (हि.स.)। पत्रकार राजदेव रंजन हत्याकांड मामले में पूर्व राजद सांसद मो. शहाबुद्दीन की मुश्किलें अब और बढ़ने वाली हैं। दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद शहाबुद्दीन की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए सीबीआई की स्पेशल कोर्ट में पेशी हुई। सुनवाई के दौरान सीबीआई की विशेष कोर्ट ने शहाबुद्दीन के नार्को और ब्रेन मैपिंग टेस्ट को लेकर सवाल-जवाब किया। कोर्ट ने नार्को और ब्रेन मैपिंग टेस्ट कराने को लेकर 4 जुलाई तक जवाब मांगा है।

बता दें कि इससे पहले सीबीआई ने शहाबुद्दीन पर गंभीर आरोप लगाते हुए कोर्ट में दलील दी थी कि वे जांच में सहयोग नहीं कर रहे हैं। सीबीआई ने कहा था कि पूर्व सांसद द्वारा सही तरह से सवालों का जवाब नहीं दिया जा रहा है। इसलिए आरोपी का नार्को टेस्ट और ब्रेन मैपिंग कराना जरूरी है।
उल्लेखनीय है कि नार्को टेस्ट और ब्रेन मैपिंग कराने की बात को शहाबुद्दिन ने पहले ही नकार दिया था। इसी माह के 15 तारीख को पेशी के दौरान उन्होंने सीबीआई की अर्जी व टेस्ट कराए जाने की मंशा पर सवाल उठाते हुए विरोध किया था। 
उन्होंने आरोप लगाया था कि सीबीआई उन्हें फंसाने के लिए इस टेस्ट को आधार बनाना चाह रही है। उधर, इस मामले में न्यायिक हिरासत में जेल में बंद लड्डन मियां सहित छह आरोपितों की कोर्ट में पेशी हुई थी| गौरतलब है कि जब तक शहाबुद्दीन की सहमति इन टेस्ट के लिए नहीं होगी तब तक सीबीआई जांच नहीं करा सकती है| विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक राजदेव हत्याकांड में जेल से जमानत पर रिहा हुए मो. जावेद और मो. कैफ को सरकारी गवाह बनाने की तैयारी में सीबीआई है।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS