ब्रेकिंग न्यूज़
झारखंड
एनसीसी गर्ल्स बटालियन ने फायरिंग रेंज में किया अभ्यास
By Deshwani | Publish Date: 18/11/2017 3:15:11 PM
एनसीसी गर्ल्स बटालियन ने फायरिंग रेंज में किया अभ्यास

दुमका, (हि.स.)।चतुर्थ झरखण्ड गर्ल्स बटालियन एनसीसी दुमका सुबेदार मेजर जसविन्दर सिंह के कुशल निर्देशन में शुक्रवार को एकलव्य माॅडल आवासीय बालिका विद्यालय, काठीजोरिया, दुमका की जुनियर विंग की 50 एनसीसी कैडेटस को नकटी फायरिंग रेंज पर फायरिंग करवायी गई। एनसीसी जूनियर विंग की छात्राएं टारगेट पर फायरिंग करते हुए अपने आपको गौरवान्वित महसूस कर रही थीं। उन्होंने पहली बार बंदूक से गोली चलाने का अनुभव प्राप्त किया। 

एनसीसी अफसर सुमिता सिंह ने बताया कि एनसीसी कैडेट्स की फायरिंग सीएटीसी कैंपों के दौरान होती रही है। हाल ही में हजारीबाग में हुए एनसीसी कैंप में काठीजोरिया एकलव्य विद्यालय की एनसीसी कैडेट्स गुलाबी हेम्ब्रम ने टारगेट पर अचूक निशाना साध कर मेडल प्राप्त कर स्कूल के साथ ही चतुर्थ झरखण्ड गर्ल्स बटालियन एनसीसी का गौरव बढ़ाया है। एनसीसी के हजारीबाग ग्रुप सेंटर के बिगेडियर आदभित्य मदान ने एनसीसी कैडेट्स को टीम तैयार कर फायरिंग की प्रैक्टिस करवाने का निर्देश दिया है जिसका उद्देश्य 2018 में होने वाली प्रतियोगिता में फायरिंग में बेहतर प्रदर्शन के लिए कैडेट्स को तैयार करना है। सुमिता सिंह बताती हैं कि ये संथाल आदिवासी और आदिम जनजाति पहाड़िया लड़कियां सुदूर ग्रामीण क्षेत्रों से आती हैं। लड़कियां किसी मायने में लड़कों से कम नहीं हैं और सेना एवं पुलिस में भर्ती होकर समाज एवं देश की सेवा करना चाहती हैं जिसके लिए यह अवसर उन्हें मिल रहा है। 

उन्होंने कहा कि बंदूक या तो आकर्षित करती है या उससे भय होता है। हमारे यहां काठीकुण्ड, गोपीकांदर, शिकारीपाड़ा और रामगढ़ के उग्रवाद प्रभावित इलाकों की छात्राएं भी पढ़ाई करती हैं जो दूसरों की सुरक्षा के लिए बंदूक उठा कर देश की सेवा करने की इच्छा रखती हैं तो इस मायने में यह एक महत्वपूर्ण पहल भी है। सूबेदार मेजर जसविन्दर सिंह ने बताया कि हम एनसीसी 10 कैडेट्स को रिपब्लिक डे परेड में भेजने के लिए भी चयन करते हैं जिसके लिए फायरिंग भी एक चरण है। उन्होंने बताया कि एकलव्य विद्यालय की छात्राओं ने फायरिंग के दौरान बढ़िया प्रदर्शन किया है। स्कूल की कैडेट गुंज कुमारी, स्टेनशीला टुडू, शर्मिला मुर्मू, मनीषा हांसदा, बीनीता हांसदा, सोमिका हेम्ब्रम ने 4 सीएम से 20 सीएम तक टारगेट में निशाना साधा है। फायरिंग अभ्यास के लिए चतुर्थ झरखण्ड गर्ल्स बटालियन एनसीसी दुमका के हवलदार वीरेश कुमार, संतोष गायकवाड़, सी भूपति, एम चंद्रा व सिविल ड्राइवर पवन मंडल भी नकटी फायरिंग रेंज में मौजूद थे। हथियारों की सुरक्षा के लिए तीन पुलिस गार्ड और एक आर्मर को भी नकटी में तैनात किया गया था।

COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS