अंतरराष्ट्रीय
गरीबी से लडऩे में प्रगति, पर अभी और काम करने की जरूरत गेट्स
By Deshwani | Publish Date: 14/9/2017 11:15:52 AM
गरीबी से लडऩे में प्रगति, पर अभी और काम करने की जरूरत गेट्स

संयुक्त राष्ट्र। बिल और मिलिंदा गेट्स फाउंडेशन ने एक रिपोर्ट में कहा है कि वैश्विक गरीबी को खत्म करने में 1990 से बड़ी प्रगति हुई है लेकिन इस दिशा में अभी और बहुत काम करने की जरूरत है।
 
माइक्रोसॉफ्ट के सहसंस्थापक द्वारा बनायी गयी इस फाउंडेशन की योजना संयुक्त राष्ट्र द्वारा वर्ष 2015 में तय किये गये सतत विकास लक्ष्यों तक पहुंचने की दिशा में प्रगति पर निगरानी से जुड़ी वार्षिक रिपोर्ट जारी करने की है। इन उद्देश्यों में वर्ष 2030 तक गरीबी और भुखमरी समाप्त करने, स्वच्छ पेयजल उपलब्ध कराने और सस्ती ऊर्जा तथा लिंग असमानताओं और जलवायु परिवर्तन से निपटना शामिल है।
 
गेट्स फाउंडेशन की पहली रिपोर्ट तैयार है, जिसमें संयुक्त राष्ट्र द्वारा निर्धारित 18 विकास संकेतकों पर ध्यान दिया गया है। बिल गेट्स ने एक बयान में कहा हम उल्लेखनीय प्रगति को दस्तावेजी रूप देने का प्रयास कर रहे हैं। यह प्रगति गरीबी और विभिन्न रोगों से निजात जैसे महत्वपूर्ण विषयों समेत बहुत से क्षेत्रों में दुनियाभर में हुई है।
 
रिपोर्ट में कहा गया है कि पांच वर्ष से कम उम्र के बच्चों की मृत्यु में कमी आयी है। यह वर्ष 1990 में एक करोड़ 12 लाख से घटकर वर्ष 2016 में केवल दस लाख रह गयी और इसका श्रेय टीकाकरण तथा रहन-सहन की बेहतर स्थितियों को जाता है। 
 
रिपोर्ट में मलावी में हुई प्रगति का जिक्र करते हुए कहा गया है कि 1990 में पांच वर्ष की उम्र तक पहुंचने से पहले चार बच्चों में से एक की मौत हो जाती थी, लेकिन वर्ष 2016 में यह संख्या घटकर 16 में एक ही रह गयी।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS