बिज़नेस
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से 2.9 लाख उम्मीदवारों को मिला रोजगार
By Deshwani | Publish Date: 11/8/2017 5:33:33 PM
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना से 2.9 लाख उम्मीदवारों को मिला रोजगार

 नई दिल्ली, (हि.स.)। प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेवीवाई) के तहत प्रशिक्षित 2.9 लाख उम्मीदवारों को गत एक वर्ष में नौकरी का ऑफर मिला है। कौशल विकास और उद्यमशीलता राज्यमंत्री राजीव प्रताप रूडी ने यह जानकारी राज्यसभा में एक लिखित प्रश्न के जवाब में दी। 

 
राजीव प्रताप रूडी ने बताया कि कौशल विकास और उद्यमशीलता मंत्रालय, अखिल भारतीय आधार पर प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेवीवाई) के नाम से जानी जाने वाली अपनी फ्लैगशिप स्कीम का कार्यान्वयन कर रहा है। पीएमकेवीवाई, बड़ी संख्या में भावी युवाओं को प्रत्यायित और संबंध प्रशिक्षण भागीदार/प्रशिक्षण केंद्रों के जरिए अल्पकालिक प्रशिक्षण और पूर्व शिक्षण मान्यता (आरपीएल) प्राप्त करने के लिए समर्थ करती है।
 
उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेवीवाई) के अंतर्गत 6 जुलाई की स्थिति के अनुसार देश में कुल 30,67,080 उम्मीदवार प्रशिक्षित किए गए हैं व प्रशिक्षण प्राप्त कर रहे हैं। पीएमकेवीवाई 2015-16 के अंतर्गत प्रशिक्षण प्रदाताओं के लिए रोजगार डाटा की सूचना देना अनिवार्य नहीं था। तथापि, पीएमके वीवाई 2016-20, जो 02 अक्तूबर 2016 को शुरु हुई है, के अंतर्गत तैनाती की ट्रेकिंग अनिवार्य है। अब तक कुल 2.9 लाख उम्मीदवारों को तैनाती का ऑफर प्रदान किए गए हैं।
 
पीएमकेवीवाई 2016-20 के अंतर्गत रोजगार पर पूरा फोकस किया गया है। इस स्कीम में प्रशिक्षार्थियों के नाम, व्यक्तिगत ब्यौरे, स्थान, लिए गए पाठ्यक्रम, तैनाती बाद ब्यौरे की निगरानी और उनके ब्यौरे को ट्रेक करने के लिए कौशल विकास प्रबंधन प्रणाली (एसडीएमएस) का प्रावधान है। इससे उम्मीदवारों का डुप्लिकेशन रोकने में मदद भी मिलती है। प्रशिक्षण भागीदारों को अंतिम 20 प्रतिशत का भुगतान न्यूनतम 70 प्रतिशत सफल प्रमाणित उम्मीदवारों को प्रशिक्षण पूरा होने के तीन महीने के अंदर वार्षिक आधार पर रोजगार प्राप्त होने (मजदूरी और स्व-रोजगार दोनों) के बाद ही किया जाएगा। इसमें कम से कम 50 प्रतिशत उत्तीर्ण प्रशिक्षार्थियों को मजदूरी रोजगार में तैनाती प्राप्त होनी चाहिए।
 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS