ब्रेकिंग न्यूज़
राज कपूर की आरके स्टूडियो में लगी आगपीएमजी ने शुभांरभ किया मोतिहारी में 'माई स्टांप' काउंटर, बनाइए अपनी तस्वीर का डाक टिकटगोलियों से थर्राया कल्याणपुर का इलाका, पुलिस व बदमाशों के बीच घंटों मुठभेड़निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल, धर्मेंद्र प्रधान का प्रमोशन, कैबिनेट मंत्री पद की ली शपथमोदी कैबिनेट : सभी नये चेहरे राज्यमंत्री और धर्मेंन्द्र, पीयूष, निर्मला व मुख्तार को प्रमोशनआज ब्रिक्स सम्मेलन में भाग लेने चीन रवाना होंगे पीएम मोदीमंत्रिमंडल में शामिल होने वाले सांसदों ने की प्रधानमंत्री से मुलाकातमोदी कैबिनेट विस्तार पर नीतीश का बड़ा बयान, हमलोगों को नहीं है कोई जानकारी
बिहार
अब तक डेढ़ लाख लोगों के खाते में भेजी गई नकद सहायता राशि
By Deshwani | Publish Date: 13/9/2017 8:39:56 PM
अब तक डेढ़ लाख लोगों के खाते में भेजी गई नकद सहायता राशि

- प्रभारी मंत्री ने की अधिकारियों संग बैठक, राहत कार्यों की हुई समीक्षा

मोतिहारी। देशवाणी न्यूज नेटवर्क


 पूर्वी चम्पारण में आयी प्रलंयकारी बाढ़ के बाद राहत सामग्री वितरण और फसल क्षति के अलावा अन्य सहायता मुहैया कराने के लिए प्रभारी मंत्री विनोद नारायण झा ने बुधवार को राहत कार्यों की समीक्षा की। बताया जा रहा है कि समाहरणालय के राधाकृष्ण भवन में हुई समीक्षा बैठक से राजद के चार विधायक अनुपस्थित रहे और उन्होंने अपने प्रतिनिधियों को इस बैठक में शामिल होने के लिए भेजा। समीक्षा बैठक में डीएम के अलावा जिले के सभी विभागों के अधिकारी और अनुमंडल पदाधिकारी मौजूद रहे।
बैठक में प्रभारी मंत्री ने जिले के करीब छह लाख परिवारों के बीच जारी राहत कार्य की प्रखंड और अनुमंडलवार जानकारी ली और त्रुटियों को अविलंब सुधारने का निर्देश दिया। प्रभारी मंत्री ने इस मौके पर कहा कि जिले के चार लाख परिवार बाढ़ से बुरी तरह प्रभावित हैं, जिसमें से 1.5 लाख लोगों के खातों में आरटीजीएस माध्यम से नकद सहायता राशि भेजी जा चुकी है।
उन्होंने बताया कि जिला प्रशासन ने बाढ़ पीड़ितों के बीच राहत सामग्री का तेजी से वितरण कराया है और 2.5 लाख लोगों को नकद सहायता राशि का चार दिनों में भुगतान करा दिया जाएगा। प्रभारी मंत्री ने कहा कि जिला प्रशासन राहत राशि के वितरण के साथ-साथ फसलों की क्षति का भी आकलन कर रही है और किसानों को भी शीघ्र ही मुआवजा दे दिया जाएगा।
विनोद नारायण झा ने बताया कि बाढ़ की विभीषिका के बाद क्षतिग्रस्त सड़कों की मरम्मत के साथ-साथ बाढ़ के बाद फैलने वाली महामारी की रोकथाम के लिए स्वास्थ्य विभाग भी जोर-शोर से काम कर रहा है। राजद विधायकों की अनुपस्थिति पर पूछे गए सवाल के जवाब में प्रभारी मंत्री ने कहा कि उन्हें स्वयं बैठक में रहना चाहिए था लेकिन उन्होंने अपने-अपने प्रतिनिधियों को भेजा है जिनसे लिखित सुझाव प्राप्त हुए हैं।

COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS