ब्रेकिंग न्यूज़
मुजफ्फरपुर से रक्सौल व नरकटियागंज तक रेल परिचालन शुरू, 7 दिनों बाद सभी गाड़ियां होंगी रेगुलर.कोई भारत की तरफ आँख भी नहीं उठा सकता, हमारे पास विश्व के सबसे बहादुर सैनिक : राजनाथ सिंह.डोकलाम विवाद का सकारात्मक हल निकलेगा: राजनाथ सिंहश्रीलंका ने भारत के सामने रखा 217 रनों का लक्ष्य, अक्षर पटेल ने लिये 3 विकेटअमित शाह ने की शिवराज की तारीफ, कहा- बीमारू प्रदेश को विकास के रास्ते पर ले आयेमुजफ्फरनगर ट्रेन दुर्घटना में क्षतिग्रस्त ट्रैक पर आज रात 10 बजे तक ट्रेनों का संचालन संभव होगामुजफ्फरनगर रेल हादसाः मेरठ लाइन पर शाम 6 बजे तक ट्रेनें रद्द, कई ट्रेनों का रूट बदला गयाकई निर्दोष लोगों की जान लेनेवाला एके 47 जब्त, दीपक पासवान व मुन्ना पाठक सलाखों के पीछे
बिहार
बाढ़ में ट्रैक बहने से रक्सौल-सीतामढ़ी रेल परिचालन अगले आदेश तक बंद
By Deshwani | Publish Date: 13/8/2017 8:55:27 PM
बाढ़ में ट्रैक बहने से रक्सौल-सीतामढ़ी रेल परिचालन अगले आदेश तक बंद

घोड़ासहन से राजू सिंह।

मोतिहारी। रक्सौल-सीतामढी रेलखंड के स्थानीय रेलवे स्टेशन से होकर गुजरने वाली सभी ट्रेनों को तत्काल प्रभाव से अगले आदेश तक के लिए रद्द कर दिया गया है। जिसके कारण भारत-नेपाल सीमा क्षेत्र को जोड़ने वाली प्रखंड का एकलौता रेलवे स्टेशन पर आज दिन-भर यात्रियों का तांता लगा रहा। यात्री इधर-उधर भटकते दिखें। लिहाजा पिछले कई दिनों से एक-दो लोकल ट्रेनों को केंसिल किया जा रहा था। परन्तु रविवार को लोकल सहित इस रूट से होकर गुजरने वाली एक्सप्रेस सहित सभी ट्रेनों को रद कर दिया गया है। स्टेशन मास्टर शम्भू प्रसाद ने बताया कि बाढ़ का मौसम है। नदियों का जल स्तर बढ़ा है। जिससे पुल-पुलियों पर इसका प्रभाव पड़ा है। साथ ही कुण्डवा चैनपुर व स्थानीय स्टेशन के बीच अमवा गांव के निकट पानी के तेज बहाव से रेल ट्रैक वास आउट हो गया है। जिसकी सूचना पर वरीय पदाधिकारियों के द्वारा अगले आदेश तक के लिए सभी ट्रेनों को केंसिल कर दिया गया है। वहीं रक्सौल-हैदराबाद ट्रेन को घोड़ासहन स्टेशन पर ही रोक दिया गया है। जिससे सीतामढ़ी जाने वाले यात्री काफी परेशान दिखे।
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS