पटना
बिहार में दलों ने किया दही-चूड़ा भोज, आनंद लेते रहे सीएम
By Deshwani | Publish Date: 14/1/2018 7:12:18 PM
बिहार में दलों ने किया दही-चूड़ा भोज, आनंद लेते रहे सीएम

पटना, (हि.स.)। बिहार में चारों तरफ मकर संक्रांति पर्व की धूम रही। पर्व को लेकर जहां बिहारवासियों में खासा उत्साह देखा गया, वहीं बिहार के राजनीतिक दलों ने भी पर्व को धूमधाम से मनाया। लोक जनशक्ति पार्टी, जनता दल यूनाइटेड तथा भारतीय जनता पार्टी ने मकर संक्रांति पर्व पर रविवार को अलग-अलग दही-चूड़ा का भोज दिया। तीनों भोज में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विशेष रूप से शामिल हुए। दही-चूड़ा का भोज देने में आगे रहने वाले राजद सुप्रीमो लालू यादव इस बार जेल में हैं जिसके कारण उनके घर सन्नाटा रहा | हालाँकि पूर्व मुख्यमंत्री डा. जगन्नाथ मिश्र भी दही-चूड़ा का भोज देने में अपने काल में चर्चा में रहे थे |

लोजपा का दही-चूड़ा भोज 
लोक जनशक्ति पार्टी ने मकर संक्रांति पर्व पर रविवार को पहली बार पटना में दही-चूड़ा का भोज दिया | इससे पहले दिल्ली में अपने निवास पर संक्रांति पर भोज देते रहे हैं | लोजपा के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार विशेष रूप से शामिल हुए। केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान ने अपने हाथों से नीतीश कुमार को तिलकुट खिलाया। भोज में मुख्यमंत्री के आलावा उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी समेत कई मंत्री, सांसद और विधायक भी शामिल हुए। 
जदयू का दही-चूड़ा भोज
मकर संक्रांति पर जदयू द्वारा दही-चूड़ा भोज का आयोजन किया गया। जदयू का दही-चूड़ा भोज प्रदेश अध्यक्ष वशिष्ठ नारायण सिंह के आवास पर आयोजित हुआ। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार इस भोज में भी विशेष रूप से शामिल हुए। बिहार में पांच साल बाद जदयू व भाजपा के नेता एक-दूसरे के भोज में शामिल हुए। वशिष्ठ नारायण सिंह के आवास पर आयोजित भोज में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी सहित कई नेता शामिल हुए। वशिष्ठ नारायण सिंह कई सालों से अपने आवास पर मकर संक्रांति पर भोज का आयोजन करते आ रहे हैं। 
भाजपा ने नहीं किया भोज, मगर विधान परिषद के सदस्य मिले भोज पर 
भाजपा ने इस वर्ष मकर संक्राति पर कोई भोज का आयोजन नहीं किया | चार दिन पहले पार्टी के वरिष्ठ नेता व विधान पार्षद सत्येन्द्र नारायण कुशवाहा का निधन हो जाने के कारण यह कार्यक्रम टल गया | स्व. कुशवाहा पार्टी के पूर्व मंत्री व भाजपा किसान मोर्चा के अध्यक्ष थे | हालाँकि विधान परिषद के सचेतक व भाजपा नेता रजनीश कुमार ने अपने घर पर दही-चूड़ा का भोज दिया जिसमें न सिर्फ विधान परिषद के सदस्य शामिल हुए बल्कि भाजपा के कई नेता व मंत्री शामिल हुए | मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी इस भोज में शामिल हुए और एक-दूसरे के साथ राजनैतिक हालात पर भी चर्चा की | 
राजद का भोज नहीं, पसरा रहा सन्नाटा 
बिहार के पूर्व सीएम और राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के घर इस साल मकर संक्रांति का भोज नहीं हुआ। उनके जेल में रहने के कारण राजद में उत्साह नहीं था जिससे इस साल मकर संक्रांति पर कोई आयोजन नहीं किया गया। राजद के वरिष्ठ नेता भोला यादव ने कहा कि लालू प्रसाद की बहन गंगोत्री देवी के पिछले दिनों हुए निधन के कारण इस बार राजद कार्यालय और लालू प्रसाद के आवास पर भोज का आयोजन नहीं हो रहा है।
 
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS